Skip to main content

Posts

Showing posts from July, 2021

तिलक पुण्यतिथि पर आभासी संगोष्ठी एवं कविता प्रतियोगिता का आयोजन होगा।

राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा 122वीं आभासी संगोष्ठी में बाल गंगाधर तिलक की पुण्यतिथि पर व्याख्यान लोकमान्य तिलक और उनका भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन विषय पर मुख्य अतिथि श्री ब्रजकिशोर शर्मा(राष्ट्रीय अध्यक्ष), विशिष्ट अतिथि डॉ. शहाबुद्दीन शेख एवं डॉ. हरिसिंह पाल तथा अध्यक्षता श्री हरेराम वाजपेयी इन्दौर एवं मुख्य वक्ता डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा(कुलानुशासक विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन) होंगे। विशेष अतिथि श्रीमती सुवर्णा जाधव, डॉ. सुनीता मंडल एवं डॉ. शिवा लोहारिया रहेगी। संगोष्ठी के आयोजक डॉ. बाला साहेब तोरस्कर, संयोजक डॉ. रश्मि चौबे एवं संचालक डॉ. मुक्ता कौशिक होगी। यह जानकारी राष्ट्रीय महासचिव डॉ. प्रभु चौधरी ने देते हुए बताया कि द्वितीय सत्र में मुख्य अतिथि डॉ. विमलकुमार जैन, विशिष्ट अतिथि श्रीमती उर्वशी उपाध्याय, डॉ. ममता झा, श्रीमती गरिमा गर्ग, इला जायसवाल, डॉ. कृष्णा आचार्य एवं अध्यक्षता डॉ. चेतना उपाध्याय करेगी। काव्य गोष्ठी का विषय बरसात में हरियाली : वृक्षारोपण - पर्यावरण पर कविता प्रतियोगिता होगी जिसमें प्रथम, द्वितीय, तृतीय का सम्मान पत्र एवं प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र हरियाली

प्रो शर्मा एवं प्रो गुप्ता विक्रम विश्वविद्यालय की कार्यपरिषद के सदस्य बने

उज्जैन : राजभवन से प्राप्त पत्र के अनुसार मध्यप्रदेश विश्वविद्यालय अधिनियम 1973 के प्रावधानों के अंतर्गत विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलाधिपति जी के द्वारा सामाजिक विज्ञान संकायाध्यक्ष प्रोफेसर दीपिका गुप्ता एवं कला संकायाध्यक्ष प्रोफेसर शैलेंद्रकुमार शर्मा को विश्वविद्यालय की कार्यपरिषद में संकायाध्यक्ष श्रेणी में सदस्य नाम निर्देशित किया गया है। इस आशय की अधिसूचना विक्रम विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ प्रशांत पुराणिक द्वारा जारी की गई है।

श्री महाकालेश्वर मन्दिर में श्रावण मास में प्रत्येक सोमवार को सुबह 5 बजे से दोपहर 1 बजे तक एवं शाम 7 से रात्रि 9 बजे तक केवल प्रीबुकिंग से ही दर्शन होंगे

  उज्जैन 30 जुलाई । कलेक्टर एवं अध्यक्ष श्री महाकालेश्वर मन्दिर प्रबंध समिति श्री आशीष सिंह ने बताया कि श्रावण मास में प्रत्येक सोमवार को प्रातः 5 बजे से दोपहर 1 बजे तक एवं शाम 7 बजे से रात्रि 9 बजे तक केवल प्रीबुकिंग से ही सामान्य दर्शन होंगे । सभी दर्शनार्थियों से आग्रह किया गया है कि वे प्रीबुकिंग करवाकर कोविड प्रोटोकॉल के तहत वैक्सीनशन सर्टिफिकेट अथवा 48 घण्टे पूर्व की कोविड नेगेटिव रिपोर्ट साथ लाकर निर्धारित स्लॉट में ही दर्शन करने आये। बिना बुकिंग के दर्शन की अनुमति नही दी जाएगी । इसी तरह श्रावण मास में सोमवार को छोड़कर अन्य दिनों में प्रातः 5 बजे से रात्रि 9 बजे तक प्रीबुकिंग से ही भगवान महाकाल के दर्शन एवम विशेष दर्शन हो सकेंगे । शनिवार , रविवार व सोमवार की प्रवेश व निर्गम की व्यवस्था * श्रावण मास में प्रत्येक शनिवार , रविवार, सोमवार प्रवेश एवम निर्गम चारधाम से होगा . * प्रसाद-शीघ्र,दर्शन-सामान-जूता स्टेण्ड और पार्किंग की व्यवस्था चारधाम पार्किंग के पास से रहेगी । * सोमवार को सामान्य प्रोटोकॉल तथा शीघ्र दर्शन व्यवस्था प्रतिबंधित रहेगी

विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा बी.कॉम तृतीय वर्ष के परीक्षा परिणाम घोषित

  उज्जैन : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि, विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा  बी.कॉम तृतीय वर्ष के  परिणाम घोषित हुए हैं, जिसे विद्यार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं...

कथा सम्राट मुंशी प्रेमचंद जयंती पर आभासी संगोष्ठी का आयोजन होगा।

नागदा - राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा 121वीं आभासी संगोष्ठी में कथा सम्राट मुंशी प्रेमचंद जी की जयंती अवसर पर व्याख्यान मुंशी प्रेमचंद कथा साहित्य : सांस्कृतिक - राष्ट्रीय परिप्रेक्ष्य में। 31 जुलाई सायं 5 बजे आयोजन होगा। इस अवसर पर संस्था की राष्ट्रीय मुख्य कार्यकारी अध्यक्ष श्रीमती सुवर्णा जाधव के जन्मदिवस पर बधाई शुभकामनाएं प्रदान की जावेगी।  यह जानकारी राष्ट्रीय महासचिव डॉ. प्रभु चौधरी ने देते हुए बताया कि संगोष्ठी के मुख्य अतिथि श्री हरेराम वाजपेयी, विशिष्ट अतिथि डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा, डॉ. प्रभु चौधरी एवं मुख्य वक्ता डॉ. शहाबुद्दीन शेख, अध्यक्षता डॉ. बालासाहेब तोरस्कर करेंगे। विशिष्ट वक्ता श्रीमती उर्वशी उपाध्याय, डॉ. सुरेखा मंत्री तथा आयोजक श्रीमती सविता इंगले, संयोजक श्रीमती पूर्णिमा कौशिक, संगोष्ठी संचालक डॉ. रश्मि चौबे रहेगी।

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन 29 जुलाई 2021

उज्जैन  कोरोना हेल्थ बुलेटिन दिनांक 29 जुलाई  2021 पॉजिटिव आए सैंपल की संख्या = 02 आज ठीक होकर घर पहुंचे मरीजों की संख्या = 00 आज दिनांक तक मौत = 171

डॉ. कलाम ने आत्मनिर्भर राष्ट्र निर्माण में अविस्मरणीय भूमिका निभाई - डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा ; एपीजे अब्दुल कलाम : सशक्त एवं आत्मनिर्भर राष्ट्र के निर्माण में भूमिका पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी संपन्न

डॉ. कलाम ने आत्मनिर्भर राष्ट्र निर्माण में अविस्मरणीय भूमिका निभाई - डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा एपीजे अब्दुल कलाम : सशक्त एवं आत्मनिर्भर राष्ट्र के निर्माण में भूमिका पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी संपन्न पूर्व राष्ट्रपति डॉ एपीजे अब्दुल कलाम ने सशक्त और आत्मनिर्भर राष्ट्र के निर्माण में अविस्मरणीय भूमिका निभाई है। इस आशय का प्रतिपादन विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन, मध्य प्रदेश के कुलानुशासक तथा कला संकाय अधिष्ठाता प्रोफेसर डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा ने किया ।राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के तत्वावधान में 'सशक्त और आत्मनिर्भर राष्ट्र निर्माण के लिए डॉ. कलाम की संकल्पनाएं' विषय पर आयोजित आभासी अंतरराष्ट्रीय गोष्ठी में वे अपना मंतव्य दे रहे थे। डॉ. ममता झा, मुंबई ने गोष्ठी की अध्यक्षता की। डॉक्टर शर्मा ने आगे कहा कि डॉ. कलाम की दृष्टि में सब लोगों के मिलने से राष्ट्र बनता है। उन्होंने राष्ट्र की एकता व अखंडता के लिए महत्वपूर्ण कार्य किया। भारत को महाशक्ति संपन्न राष्ट्र बनाने का सपना डॉ. कलाम ने देखा था, जो आज पूरा हो रहा है । उन्होंने साधारणता में असाधारणता की मिसाल कायम की। वे

भारत स्काउट एवं गाइड मध्यप्रदेश की राज्य कार्यकारिणी की बैठक सम्पन्न

भोपाल : भारत स्काउट एवं गाइड मध्यप्रदेश राज्य प्रशिक्षण केन्द्र गांधीनगर भोपाल में निर्विरोध निर्वाचन पश्चात्‌ प्रथम राज्य कार्यकारिणी की बैठक निर्विघ्न सम्पन्न हुई। बैठक का संचालन श्री अशोक जनवदे राज्य सचिव भारत स्काउट एवं गाइड मध्यप्रदेश द्वारा किया गया। बैठक में मुख्य रूप से भारत स्काउट एवं गाइड म.प्र. के अध्यक्ष माननीय श्री इन्दर सिंह जी परमार शिक्षा मंत्री म.प्र. शासन, राज्य मुख्य आयुक्त श्री पारस चन्द्र जी जैन, राज्य आयुक्त स्काउट श्री डी.एस. राघव, उपाध्यक्ष श्री आलोक जैन, श्री प्रकाश चित्तौडा, श्रीमती लता गुड्डू बानखेडे, श्रीमती मीना डागोर, श्री विराम जैन, श्रीमती दीपिका बैरागी, श्री रमेश अग्रवाल, श्री तरूण अग्रवाल, श्री ओमप्रकाश गुप्ता, श्री तुकाराम धुर्वे, श्री अजय मिश्रा, कोषाध्यक्ष श्री रमेश शर्मा सहित संस्था के अन्य पदाधिकारी, अधिकारी एवं कर्मचारी उपस्थित रहे। भारत स्काउट एवं गाइड मध्यप्रदेश के राज्य मीडिया प्रभारी श्री राधेश्याम चौऋषिया ने जानकारी देते हुए बताया कि, निर्वाचन पश्चात्‌ यह प्रथम कार्यकारिणी की बैठक थी, जिसका आयोजन वृहद स्तर पर किया जाकर समस्त जिला

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन 28 जुलाई 2021

उज्जैन  कोरोना हेल्थ बुलेटिन दिनांक 28 जुलाई  2021 पॉजिटिव आए सैंपल की संख्या = 01 आज ठीक होकर घर पहुंचे मरीजों की संख्या = 00 आज दिनांक तक मौत = 171

संस्था के सदस्य अपने दायित्व को समझें - डॉ. शहाबुद्दीन शेख

  किसी भी स्वैच्छिक संस्था के सदस्य को अपने दायित्व का निर्वाह करते हुए संस्था के हित में काम करना चाहिए। इस आशय का प्रतिपादन राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के राष्ट्रीय मुख्य संयोजक प्राचार्य डॉ. शहाबुद्दीन नियाज मुहम्मद शेख, पुणे, महाराष्ट्र ने किया। राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की आयोजन समिति की बैठक में वे अध्यक्षीय उद्बोधन दे रहे थे। डॉ. शहाबुद्दीन शेख ने आगे कहा कि संस्था की सदस्यता ग्रहण करना हमारे लिए गौरव की बात है। अतः संस्था के प्रति निष्ठा, आदर व अपनेपन की भावना होनी चाहिए। संस्था को एक परिवार समझकर उसकी प्रगति में प्रमाणिकता से सहयोग करना चाहिए। राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना की मुख्य राष्ट्रीय कार्यकारी अध्यक्ष श्रीमती सुवर्णा अशोक जाधव,मुबंई ने कहा कि संगठन को अपना समझ कर सदस्यगण उसके लिए समय दें। नियुक्ति के अनुसार सदस्य अपनी जिम्मेदारी निभाये। राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के मुख्य राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. मुक्ता कान्हा कौशिक, रायपुर,छ.ग. ने कहा कि सदस्य गण पद की गरिमा बनाए रखें। संस्था के हर उपक्रम में सहभाग देना और अन्यों को प्रेरित करना संस्था सदस्यों की अहम जिम्मेदा

प्रो शर्मा को अंतरराष्ट्रीय प्रेमचंद आलोचना सम्मान अर्पित किया जाएगा ; साहित्य के क्षेत्र में विशिष्ट अवदान के लिए प्रो शर्मा को नार्वे से अर्पित होगा प्रथम प्रेमचंद आलोचना अंतरराष्ट्रीय सम्मान

प्रो शर्मा को अंतरराष्ट्रीय प्रेमचंद आलोचना सम्मान अर्पित किया जाएगा साहित्य के क्षेत्र में विशिष्ट अवदान के लिए प्रो शर्मा को नार्वे से अर्पित होगा प्रथम प्रेमचंद आलोचना अंतरराष्ट्रीय सम्मान प्रेमचंद जयन्ती पर 31 जुलाई 2021 को भारतीय-नार्वेजीय सूचना एवं सांस्कृतिक फोरम, नार्वे एवं द्विभाषी पत्रिका स्पाइल दर्पण द्वारा साहित्य के क्षेत्र में विशिष्ट अवदान के लिए अंतरराष्ट्रीय प्रेमचंद सम्मान दिये जाएँगे। विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के हिंदी विभागाध्यक्ष, कला संकायाध्यक्ष एवं समालोचक प्रो शैलेंद्र कुमार शर्मा को प्रथम प्रेमचंद अंतरराष्ट्रीय आलोचना सम्मान अर्पित किए जाने की घोषणा की गई है। उन्हें यह सम्मान उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेंद्र कुमार तिवारी और ओस्लो, नार्वे में भारतीय दूतावास में राजदूत डॉ. बी. बाला भास्कर, ओस्लो के पूर्व टाउन मेयर थूरस्ताइन विंगेर और संस्था के अध्यक्ष एवं वरिष्ठ साहित्यकार सुरेशचन्द्र शुक्ल शरद आलोक अर्पित करेंगे। पुरस्कार अलंकरण समारोह डिजिटल प्लेटफॉर्म पर आयोजित किया जाएगा। कार्यक्रम का यू ट्यूब पर लाइव प्रसारण होगा। विगत तीन दशको

विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा घोषित परीक्षा परिणाम

उज्जैन : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि, विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा विभिन्न परीक्षाओं के परिणाम घोषित हुए हैं, जिसे विद्यार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं...  

विक्रम विश्वविद्यालय के इंजीनियरिंग संस्थान एस.ओ.ई.टी के नाम का एक और पेटेंट प्रकाशन इंडियन पेटेंट जनरल में हुआ।

पे टेंट टायटल - वायरलेस संचार नेटवर्क के साथ एकीकृत मशीन लर्निंग आधारित स्मार्ट ग्रिड पॉवर सिस्टम उज्जैन : विक्रम विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पाण्डे एवं स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी संस्थान के निदेशक डॉ. गणपत अहिरवार के मार्गदर्शन में इंजीनियरिंग संस्थान के इलेक्ट्रीकल इंजीनियरिंग विभाग एवं इलेक्ट्रानिक्स एण्ड कम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग विभाग के शिक्षक श्री रघुनन्दन सिंह बघेल, श्रीमती नेहा सिंह, श्री आशिष सूर्यवंशी एवं अन्य विश्वविद्यालय के शिक्षकों के साथ मिलकर सयुक्त रूप से इंडियन पेटेंट जर्नल में प्रकाशित किया गया।  पेटेंट के अन्तर्गत पारमपरिक पॉवर सिस्टम में पॉवर का वन वे संचार किया जाता था जिसके कारण पॉवर जनरेशन एवं लोड डिमांड का संतुलन नहीं बन पाता था। जिसके फल स्वररूप कई बार ज्यादा पॉवर का जनरेशन हो जाता है, परन्तु लोड डिमान्ड कम होती है एवं कई बार पॉवर जनरेशन कम हो जाता है साथ ही लोड डिमांड बहुत ज्यादा बड जाती है, जिससे पॉवर सिस्टम में स्टेब्लिटी एवं रिलायब्लिटी एवं फाल्ट डिटक्शन में परेशानी आती है एवं लाईन लोसेस भी ज्यादा होते है साथ ही ग्रिड

कुलपति निवास के आसपास से हटाई गई गाजरघास ; विश्वविद्यालय परिसर में गाजरघास उन्मूलन के लिए जाएंगे प्रयास

कुलपति निवास के आसपास से हटाई गई  गाजरघास  विश्वविद्यालय परिसर में गाजरघास उन्मूलन के लिए जाएंगे प्रयास विक्रम विश्वविद्यालय परिसर स्थित कुलपति निवास और आसपास आज दिनांक 26 जुलाई 2021 को गाजरघास की सफाई की गई। कुलपति प्रो अखिलेश कुमार पांडेय के निर्देशन में कुलपति निवास के अन्दर एवं उसके चारों तरफ गाजरघास  की साफ-सफाई निवास पर कार्यरत कर्मचारियों द्वारा की गई और स्वच्छता का संकल्प लिया गया। विश्वविद्यालय परिसर में गाजर घास के उन्मूलन के प्रयास निरंतर किए जाएंगे। कुलपति प्रोफेसर अखिलेश कुमार पांडेय के अनुसार गाजर घास एक वर्षीय शाकीय पौधा हैं, कहीं भी आसानी से फैल सकता हैं | इस पौधे की लम्बाई 1.0 से 1.5 मीटर तक हो सकती हैं | इसकी पत्तियां गाजर की पत्तियों की तरह होती हैं, जिन पर रोंयें लगे होते हैं | इसका अधिकतम अंकुरण 25 से 300C तापमान पर होता हैं | गाजरघास का प्रत्येक पौधा लगभग 15000 से 25000 अत्यन्त सूक्ष्म बीज पैदा करता हैं | इसके बीज हल्के होने के कारण यह दूर तक फैल सकते हैं | यह खरपतवार 3-4 महिने में अपना जीवन चक्र पूरा कर लेता हैं | चूँकि ये पौधा प्रकाश एवं तापक्रम के प्र

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में सौ प्रतिशत वेक्सीनेशन ; विश्वविद्यालय स्वास्थ्य केन्द्र टीकाकरण हेतु मान्य होगा

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में सौ प्रतिशत वेक्सीनेशन  विश्वविद्यालय स्वास्थ्य केन्द्र टीकाकरण हेतु मान्य होगा उज्जैन -  मंगलवार, 27 जुलाई 2021 :  आज भारत के महामहिम पूर्व राष्ट्रपति डॉ. अब्दुल कलाम की पुण्य तिथि पर विक्रम विश्वविद्यालय के माननीय कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पाण्डेय के मार्गदर्शन में विक्रम विश्वविद्यालय, राष्ट्रीय सेवा योजना, ओपन इकाई एवं फ्यूचर विजन इकाई के स्वयं सेवकों द्वारा वेक्सीनेशन जागरूकता रैली निकालकर विश्वविद्यालय के समस्त अध्ययनशालाओं में आचार्य, अधिकारियों, कर्मचारियों एवं छात्र-छात्राओं से रूबरू चर्चा कर वेक्सीनेशन डोज की जानकारी प्राप्त की और उन्होंने विश्वविद्यालय के स्वास्थ्य केन्द्र को टीकाकरण के लिये मान्य किये जाने की भी जानकारी दी इससे भविष्य में डोज लगवाने के लिये किसी को अन्यत्र जाने की आवश्यकता नहीं रहेगी।   विक्रम विश्वविद्यालय की समस्त अध्ययनशालाओं में बतौर जानकारी प्राप्त हुई कि 100 प्रतिशत वेक्सीनेशन डोज लग चुके हैं। उपस्थित सभी जनों ने माननीय कुलपति जी को परिवार एवं अपने आस-पास के निवासियों की भी जानकारी प्रदान की और जिन्हें 1 डोज शेष

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन द्वारा दस से अधिक परीक्षा परिणाम घोषित

उज्जैन :   विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि, विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा विभिन्न परीक्षाओं के परिणाम घोषित हुए हैं, जिसे विद्यार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं...

भारत भूमि में महत्त्व मिला है गुरु से जुड़े विद्या वंश को - पूर्व कुलपति प्रो शर्मा ; भारतीय सभ्यता और संस्कृति में गुरु महिमा : युगीन परिप्रेक्ष्य में पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी सम्पन्न

भारत भूमि में महत्त्व मिला है गुरु से जुड़े विद्या वंश को - पूर्व कुलपति प्रो शर्मा भारतीय सभ्यता और संस्कृति में गुरु महिमा : युगीन परिप्रेक्ष्य में पर अंतरराष्ट्रीय संगोष्ठी सम्पन्न     देश की प्रतिष्ठित राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा अंतरराष्ट्रीय वेब संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी का विषय भारतीय सभ्यता और संस्कृति में गुरु महिमा : युगीन परिप्रेक्ष्य में केंद्रित थी। आयोजन के मुख्य अतिथि डॉ बालकृष्ण शर्मा, पूर्व कुलपति विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन थे। मुख्य वक्ता विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्र कुमार शर्मा थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ डॉ विमल जैन, इंदौर ने की। विशिष्ट अतिथि श्री सुरेशचंद्र शुक्ल शरद आलोक, ओस्लो, नॉर्वे, डॉक्टर शहाबुद्दीन नियाज मोहम्मद शेख, पुणे, श्रीमती सुवर्णा जाधव, डॉ गोकुलेश्वर कुमार द्विवेदी और संस्था महासचिव डॉ प्रभु चौधरी थे।      मुख्य अतिथि विक्रम विश्वविद्यालय के पूर्व कुलपति प्रो बालकृष्ण शर्मा  ने कहा कि जो भार से युक्त है, वह गुरु है। जो खाली है, वह लघु है, जो खाली नहीं है, वह गुरु है। गुरु वह है जो पूर्णता लिए हुए

मध्यप्रदेश खबर

नेशनल न्यूज़