Skip to main content

Posts

Showing posts from October, 2020

मध्यप्रदेश कोरोना बुलेटिन 31 अक्टूबर 2020

Bkk News Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets -  http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन 31 अक्टूबर 2020

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन दिनांक 31 अक्टूबर  2020 पॉजिटिव आए सैंपल की संख्या = 07 आज दिनांक तक मौत = 96 Bkk News Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets -  http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar

राष्ट्रीय एकता और अखंडता के लिए सरदार पटेल ने अविस्मरणीय योगदान दिया -लेफ्टिनेंट जनरल श्री राणा, विक्रम विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय एकता दिवस पर विशिष्ट व्याख्यान हुआ

राष्ट्रीय एकता और अखंडता के लिए सरदार पटेल ने अविस्मरणीय योगदान दिया -लेफ्टिनेंट जनरल श्री राणा विक्रम विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय एकता दिवस पर विशिष्ट व्याख्यान हुआ सरदार पटेल की जयंती पर देश भर में मनाए जाने वाले राष्ट्रीय एकता दिवस के अवसर पर विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में विशिष्ट व्याख्यान का आयोजन किया गया। कार्यक्रम के प्रमुख अतिथि लेफ्टिनेंट जनरल श्री रमेश कुमार राणा, जबलपुर थे। अध्यक्षता कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पांडेय ने की। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि कुलसचिव डॉ यू एन शुक्ला थे। विक्रम विश्वविद्यालय के शलाका दीर्घा सभागार में 31 अक्टूबर 2020 को दोपहर में आयोजित कार्यक्रम में ऑनलाइन माध्यम से विशिष्ट व्याख्यान देते हुए लेफ्टिनेंट जनरल श्री रमेश कुमार राणा, जबलपुर ने कहा कि सरदार वल्लभभाई पटेल अत्यंत साहसी और लोकहितैषी व्यक्तित्व के धनी थे। राष्ट्रीय एकता और अखंडता के लिए सरदार पटेल ने अविस्मरणीय योगदान दिया। उन्होंने किसानों और कर्मचारियों के कल्याण के लिए अनेक प्रयास किए। यह बेहद प्रसन्नता की बात है कि सम्पूर्ण देश उनका जन्मदिवस राष्ट्रीय एकता के दिवस के रूप में म

कोविड - 19 तथ्यपरक जागरूकता अभियान

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन का अनुरोध कोविड - 19 के संक्रमण से रोकथाम और बचाव के उपायों से सम्बंधित तथ्यात्मक सन्देशों को समस्त शिक्षकों, शोधकर्ताओं, विद्यार्थियों, शैक्षिक संस्थानों, जन समुदाय और समूहों के मध्य प्रसारित करने का अनुरोध है।

कोविड - 19 तथ्यपरक जागरूकता अभियान

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन का अनुरोध कोविड - 19 के संक्रमण से रोकथाम और बचाव के उपायों से सम्बंधित तथ्यात्मक सन्देशों को समस्त शिक्षकों, शोधकर्ताओं, विद्यार्थियों, शैक्षिक संस्थानों, जन समुदाय और समूहों के मध्य प्रसारित करने का अनुरोध है।

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन 30 अक्टूबर 2020

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन दिनांक 30 अक्टूबर 2020 पॉजिटिव आए सैंपल की संख्या = 05 आज दिनांक तक मौत = 96

मध्यप्रदेश कोरोना बुलेटिन 30 अक्टूबर 2020

सामाजिक बदलाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं जनसंचार माध्यम - प्रो. शर्मा, पत्रकार सम्मान समारोह एवं जनसंचार माध्यम और सामाजिक सरोकार पर केंद्रित राष्ट्रीय संगोष्ठी सम्पन्न

सामाजिक बदलाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहे हैं जनसंचार माध्यम - प्रो. शर्मा   पत्रकार सम्मान समारोह एवं जनसंचार माध्यम और सामाजिक सरोकार पर केंद्रित राष्ट्रीय संगोष्ठी सम्पन्न राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना और मंत्रणा साहित्यिक संस्था, नागदा द्वारा जनसंचार माध्यम और सामाजिक सरोकार पर केंद्रित राष्ट्रीय संगोष्ठी एवं पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। समारोह के मुख्य वक्ता विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन के हिंदी विभागाध्यक्ष एवं कुलानुशासक प्रोफेसर शैलेंद्र कुमार शर्मा थे। आयोजन के मुख्य अतिथि वरिष्ठ साहित्यकार श्री जी डी अग्रवाल थे। कार्यक्रम की अध्यक्षता मंत्रणा साहित्यिक संस्था, नागदा के अध्यक्ष श्री राजेन्द्र कांठेड़ ने की। विशिष्ट अतिथि वरिष्ठ पत्रकार श्री राजेश रघुवंशी, श्री कैलाश सनोलिया, साहित्यकार श्री वीरेंद्र मिश्र एवं डॉक्टर प्रभु चौधरी थे। संगोष्ठी को सम्बोधित करते हुए लेखक एवं संस्कृतिविद् प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने कहा कि अपनी पहुँच और विस्तार में जनसंचार माध्यमों ने आज अपनी खास जगह बना ली है। भारतीय पौराणिक और ऐतिहासिक संदर्भ इस बात की ओर स्पष्ट संकेत करते हैं कि द

राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा पत्रकारों का सम्मान

नागदा : राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के द्वारा आज नागदा नगर में कोरोना के चलते स्वस्थ एवं सकारात्मक समाचारों के द्वारा क्षेत्र में संस्था के वेबीनार आयोजनों का समग्रता से प्रकाशन किया। इस हेतु आज समारोह के मुख्य अतिथि डॉक्टर जी डी अग्रवाल, इंदौर, राष्ट्रीय शिक्षक संघ चेतना के वरिष्ठ उपाध्यक्ष एवं डॉक्टर शैलेंद्र कुमार शर्मा संरक्षक एवं कुलानुशासन, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के विशेष आतिथ्य में कथा श्री राजेंद्र कांठेड़ समाजसेवी एवं व्यापारी कवि की अध्यक्षता में नगर के 56 पत्रकारों का सम्मान अतिथियों द्वारा किया गया ।  स्वागत भाषण एवं अतिथि परिचय डॉक्टर प्रभु चौधरी महासचिव तथा संस्था परिचय श्री अनिल ओझा राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष इंदौर ने दिया ।  समारोह का संचालन कवि एवं राष्ट्रीय प्रवक्ता श्री सुंदर लाल जोशी सूरज ने एवं आभार प्रदेश इकाई के उपाध्यक्ष श्री हरचरण सिंह चावला ने माना ।  इस अवसर पर नागदा इकाई के अध्यक्ष के रूप में श्री अशोक गौर,  ओज रस के कवि को नियुक्ति पत्र महासचिव द्वारा प्रदान किया गया।  Bkk News Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर Bekhabaron Ki Khabar, magazi

राष्ट्रीय एकता दिवस पर विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में कार्यक्रम आयोजित

राष्ट्रीय एकता दिवस पर विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में कार्यक्रम आयोजित उज्जैन : सरदार वल्लभभाई पटेल के जन्म दिवस राष्ट्रीय एकता दिवस 31 अक्टूबर को विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के शलाका दीर्घा में 12:00 बजे से कार्यक्रम माननीय कुलपति जी की अध्यक्षता में आयोजित है। कार्यक्रम में राष्ट्रीय एकता की शपथ माननीय कुलपति जी द्वारा दिलाई जाएगी एवं विशिष्ट व्याख्यान : लेफ्टिनेंट जनरल श्री रमेश कुमार राणा, जबलपुर का होगा।  श्री राणा असम राइफल्स बटालियन के आईजी, एनडीए में इंस्ट्रक्टर, जम्मू कश्मीर एवं चाइना बॉर्डर में अनेक बार एरिया कमांडर भी रहे हैं। राष्ट्रीय एकता पर चर्चा करेंगे। Bkk News Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets -  http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar

कोविड-19 तथ्यपरक जागरुकता अभियान

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन का अनुरोध कोविड - 19 के संक्रमण से रोकथाम और बचाव के उपायों से सम्बंधित तथ्यात्मक सन्देशों को समस्त शिक्षकों, शोधकर्ताओं, विद्यार्थियों, शैक्षिक संस्थानों, जन समुदाय और समूहों के मध्य प्रसारित करने का अनुरोध है।

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन 29 अक्टूबर 2020

उज्जैन कोरोना हेल्थ बुलेटिन दिनांक 29 अक्टूबर 2020 पॉजिटिव आए सैंपल की संख्या = 20 आज दिनांक तक मौत = 96

मध्यप्रदेश कोरोना बुलेटिन 29 अक्टूबर 2020

शरद पूर्णिमा का महत्व

शरद पूर्णिमा का महत्व   हिंदू पंचांग के अनुसार शरद पूर्णिमा हर वर्ष आश्विन मास के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को आती है प्रति वर्ष की भांति इस वर्ष शरद पूर्णिमा 30 अक्टूबर दिन शुक्रवार को मनाई जाएगी शरद पूर्णिमा का धार्मिक सामाजिक व आयुर्वेदिक महत्व है ज्योतिष शास्त्र के अनुसार इस दिन चंद्रमा 16 कलाओं से पूर्ण होता है इस कारण यह तिथि विशेष महत्व रखती है पौराणिक मान्यता के अनुसार इस दिन मां लक्ष्मी विचरण करती हैं इसलिए माता लक्ष्मी की पूजा करने से उनका विशेष आशीर्वाद मिलता है तथा जीवन में कभी भी धन की कमी नहीं होती है हिंदू मान्यता के अनुसार लोग उपवास पूजन करते हैं.  आयुर्वेद और शरद पूर्णिमा आयुर्वेद के अनुसार ऋतु विभाजन के क्रम में विसर्ग काल का विभाजन वर्षा शरद हैमंत ऋतु में होता है विसर्गकाल में सूर्य दक्षिणायन में गति करता है विसर्ग काल में चंद्रमा पूर्ण बल वाला होता है समस्त भूमंडल पर चंद्रमा अपनी किरणों को फैलाकर विश्व का निरन्तर पोषण करता रहता है इसलिये विसर्ग  काल को सौम्य कहा जाता है आयुर्वेद मत के अनुसार वर्षा ऋतु में पित्त का संचय होता है तथा शरद ऋतु में पित्त का प्रकोप होता है

कोविड - 19 तथ्यपरक जागरूकता अभियान

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन का अनुरोध कोविड - 19 के संक्रमण से रोकथाम और बचाव के उपायों से सम्बंधित तथ्यात्मक सन्देशों को समस्त शिक्षकों, शोधकर्ताओं, विद्यार्थियों, शैक्षिक संस्थानों, जन समुदाय और समूहों के मध्य प्रसारित करने का अनुरोध है।

मध्यप्रदेश खबर

नेशनल न्यूज़