Skip to main content

Posts

Showing posts from September, 2021

आज़ादी के अमृत महोत्सव के अवसर पर भौतिकी अध्ययनशाला में "सेल्फी विथ प्लांट्स" नवाचार का आरम्भ

उज्जैन : गुरुवार दिनांक 30 सितम्बर 2021 को भौतिकी अध्ययनशाला के प्रांगण में विभाग द्वारा संचालित फिजिक्स क्लब के  तत्वावधान में तथा वन विभाग के सहयोग से आजादी के अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में ७५ पौधों का रोपण किया गया । जिसमे वन विभाग की अधिकारी श्रीमति अनुभा त्रिवेदी (एसडीओ, उज्जैन ), विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति माननीय प्रोफेसर अखिलेश कुमार पाण्डे, विभागाध्यक्ष डॉ. स्वाति दुबे , सह प्राध्यपक डॉ. निश्छल यादव, अतिथि विद्वान, शोधार्थी, विद्यार्थी एवं कर्मचारी गण उपस्थित रहे । माननीय कुलपति जी ने इस अवसर पर कहा की जो पौधे रोपे जा रहे है उनका संरक्षण करना हमारी जिम्मेदारी है एवं  उन्होंने "सेल्फी विथ प्लांट्स" कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए समस्त उपस्थित भौतिकी अधययनशाला परिवार के सदस्यों को एक-एक पौधा संरक्षित करके उनको समय-समय पर पौधे की स्थिति  से सम्बंधित रिकॉर्ड रखने तथा मूल्यांकन प्रणाली में पौधा रोपण व संरक्षण  प्रक्रिया के अंक विद्यार्थियों को देने का सुझाव दिया ।  भौतिकी  अधययनशाला में अंतर्राष्ट्रीय ओजोन दिवस पर आयोजित पोस्टर प्रदर्शनी का अवलोकन भी इस अवसर पर

नार्वे से महात्मा गाँधी अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार 2021 अलंकरण 2 अक्टूबर को

भारतीय- नार्वेजीय सूचना एवं सांस्कृतिक फोरम के अध्यक्ष सुरेशचन्द्र शुक्ल ‘शरद आलोक’ ने महात्मा गाँधी अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार 2021 की घोषणा की है।  यह पुरस्कार उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी, सुरेशचन्द्र शुक्ल और नार्वे के पूर्व संसदीय मंत्री एस्पेन बार्ट आइदे द्वारा संयुक्त रूप से डिजिटल मंच पर  2  अक्तूबर  2021 को दिन में दो बजे प्रदान किए जायेंगे।  पिछले वर्ष पहले महात्मा गाँधी अन्तर्राष्ट्रीय पुरस्कार से    श्री  गुलाब कोठारी, श्रीमती मृदुला सिन्हा और प्रो शैलेंद्र कुमार शर्मा, उज्जैन सहित अनेक विद्वतजनों को प्रदान किये गये थे। इस वर्ष अर्पित किए जाने वाले सम्मानों में समाज सेवा के लिये: मारित नीबाक (तीन बार स्पीकर रहीं, नार्वे की पार्लियामेंट में), राजेन्द्र सिंह  (जल पुरुष), मेधा पाटकर (प्रसिद्ध समाज सेवी), सुमेधा सत्यार्थी (समाज सेवी), हाइकी होल्मोस (पूर्व मंत्री) आदि प्रमुख हैं।  विश्व प्रसिद्ध पर्वतारोही: बचेंद्री पाल (भारत की पहली एवरेस्ट पर चढ़ने वाली महिला), नुंगशी मालिक और ताशी मालिक ( एवरेस्ट सहित 7 पहाड़ियों और दक्षिण तथा उत्तरी ध्रुव की यात्रा कर

विक्रम विश्वविद्यालय में संचालित 205 से अधिक पाठ्यक्रमों में 10 अक्टूबर तक किए जा सकेंगे रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए आवेदन

विक्रम विश्वविद्यालय में संचालित 205 से अधिक पाठ्यक्रमों में 10 अक्टूबर तक किए जा सकेंगे रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए आवेदन विश्वविद्यालय की अध्ययनशालाओं में संचालित पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए पहली बार आए तीन हजार से अधिक आवेदन उज्जैन : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में विभिन्न अध्ययनशाला एवं संस्थानों में संचालित 205 से अधिक स्नातकोत्तर, स्नातक, डिप्लोमा एवं प्रमाण पत्र पाठ्यक्रमों में मेरिट के आधार पर प्रवेश की प्रक्रिया जारी है। ये पाठ्यक्रम वाणिज्य, शारीरिक शिक्षा, कृषि, कंप्यूटर विज्ञान, विज्ञान, जीव विज्ञान, कला, समाज विज्ञान, विधि, इंजीनियरिंग, व्यवसाय प्रबंधन, नॉन फॉर्मल एजुकेशन, फॉरेंसिक साइंस, फूड टेक्नोलॉजी आदि संकाय और विषय क्षेत्रों से जुड़े हुए हैं। विश्वविद्यालय में संचालित विभिन्न पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए पहली बार अब तक तीन हजार से अधिक आवेदन पत्र आ चुके हैं। विक्रम विश्वविद्यालय की अध्ययनशालाओं एवं संस्थानों में संचालित विभिन्न पाठ्यक्रमों में रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए आवेदन 10 अक्टूबर तक किए जा सकेंगे। विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक

विक्रम विश्वविद्यालय में गांधी जयंती पर 2 अक्टूबर को होगा विशिष्ट व्याख्यान एवं महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि

विक्रम विश्वविद्यालय में गांधी जयंती पर 2 अक्टूबर को होगा विशिष्ट व्याख्यान एवं महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि गांधी जयंती के पूर्व दिवस पर 1 अक्टूबर को होगा मोहन से महात्मा पपेट शो का प्रदर्शन उज्जैन : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजनों की शृंखला में महात्मा गांधी जयंती के अवसर पर दो दिवसीय कार्यक्रमों में विशिष्ट व्याख्यान, गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि, नशा मुक्ति प्रदर्शनी और मोहन से महात्मा पपेट शो का प्रदर्शन किया जाएगा। गांधी जयंती के पूर्व दिवस पर 1 अक्टूबर 2021, शुक्रवार को दोपहर 3:00 बजे विश्वविद्यालय के स्वर्ण जयंती सभागार में क्रिएटिव पपेट थिएटर ट्रस्ट, वाराणसी के समूह द्वारा श्री मिथिलेश दुबे के निर्देशन में पपेट शो मोहन से महात्मा का प्रदर्शन किया जाएगा। कार्यक्रम की अध्यक्षता विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर अखिलेश कुमार पांडेय करेंगे। विशिष्ट अतिथि डॉ प्रशांत पुराणिक एवं राष्ट्रीय कला मंच के अखिल भारतीय प्रमुख श्री जे.पी.निरंजन होंगे। विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने जानक

भारतीय संस्कृति एवं परंपरा का पोषण भारत स्काउट एवं गाइड जैसी संस्था ही कर सकती है : इंदर सिंह परमार, मंत्री, स्कूल शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन

भारत स्काउट एवं गाइड म.प्र. की राज्य परिषद की बैठक सम्पन्न भारतीय संस्कृति एवं परंपरा का पोषण भारत स्काउट एवं गाइड जैसी संस्था ही कर सकती है : इंदर सिंह परमार, मंत्री, स्कूल शिक्षा विभाग, मध्यप्रदेश शासन भोपाल : भारत स्काउट एवं गाइड मध्यप्रदेश की राज्य परिषद की वर्चुअल बैठक दिनांक 29 सितम्बर 2021 को 12 बजे से राज्य मुख्यालय भोपाल के सभागार में आयोजित की गई। बैठक में मध्यप्रदेश के समस्त जिलो से सम्मानीय सदस्यों एवं पदाधिकारियों ने अपनी प्रतिभागिता दर्ज कराई। भारत स्काउट एवं गाइड मध्यप्रदेश के राज्य मीडिया प्रभारी श्री राधेश्याम चौऋषिया ने जानकारी देते हुए बताया कि, बैठक की अध्यक्षता श्री इंदरसिंह परमार, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) म.प्र. शासन एवं अध्यक्ष भारत स्काउट एवं गाइड म.प्र. भोपाल द्वारा की गई। बैठक का संचालन राज्य सचिव श्री अशोक जनवदे द्वारा किया गया। बैठक में वार्षिक प्रतिवेदन 2020-21 एवं वार्षिक कार्ययोजना 2021-22, वार्षिक आय-व्यय पत्रक (सत्र 2020-21 का पुनरीक्षित तथा सत्र 2021-22 का प्रस्तावित) लेखा ऑडिट प्रतिवेदन 2019-20 की स्वीकृति एवं सदस्यों से प्राप

गुरू अखाड़े के संस्थापक परमपुज्य गुरूवर्य श्री अच्युतानंद स्वामीजी, महाराज की पूण्यतिथि महोत्सव पर भव्य अयोजन

उज्जैन : श्री अच्युतानंद गुरू अखाड़ा व्यायामशाला न्यास,उज्जैन के संस्थापक परम पूज्य गुरूवर्य श्री अच्युतानंद स्वामीजी महाराज की पूण्यतिथि के अवसर पर सुन्दरकांड एवं महा-आरती का आयोजन बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष माननीय श्री वी.डी.शर्मा के मुख्य आथित्य मे किया गया। कार्यक्रम में उपस्थित मध्यप्रदेश शासन के उच्च शिक्षा मंत्री डॉ. मोहन यादव, माननीय श्री अनिल फिरोजिया (सांसदजी), भाजपा जिलाध्यक्ष श्री विवेक जोशी, मध्यप्रदेश शासन के पूर्व केबिनेट मंत्री, उज्जैन उत्तर के लोकप्रिय विधायक एवं श्री अच्युतानंद गुरू अखाड़ा व्यायामशाला न्यास के अध्यक्ष माननीय श्री पारस चन्द्र जी जैन, अखिल भारतीय मल्लखंब फेडरेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री रमेश इन्दौलिया न्यास सचिव श्री मुकेश लड्डा, कोषाध्यक्ष श्री पुरुर्षोत्तम टेलर एवं ट्रस्टमण्डल सदस्यों द्वारा परमपुज्य गुरूवर्य श्री अच्युतानंद स्वामीजी महाराज की प्रतिमा का पूजन एवं महाआरती की गई। पूण्यतिथि महोत्सव के अवसर पर मल्लखंब एवं योगासन के राष्ट्रीय खिलाडी एवं न्यास के मल्लखंब कोच श्री लीलाधर कहार को मल्लखंब फेडरेशन ऑफ इंडिया के राष्ट्रीय अध्यक्षजी

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन द्वारा एल.एल.एम सहित 6 परीक्षाओं के परिणाम घोषित

उ ज्जैन  : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि, विक्रम विश्वविद्यालय , उज्जैन  द्वारा  एल.एल.एम सहित 6 परीक्षाओं  के  परिणाम घोषित हुए हैं, जिसे विद्यार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं... 

भौतिकी अध्ययनशाला में हरित उपभोक्ता दिवस के अवसर पर विज्ञानवार्ता और बेस्ट ऑफ वेस्ट मॉडल प्रतियोगिता का आयोजन

उज्जैन : भौतिकी अध्ययनशाला, विक्रम विश्वविद्यालय में हरित उपभोक्ता दिवस के अवसर पर विज्ञानवार्ता एवं बेस्ट ऑफ वेस्ट मॉडल प्रतियोगिता का आयोजन फिजिक्स क्लब के अंतर्गत किया गया । इस कार्यक्रम में विभाग के सभी विद्यार्थियों ने कविता, स्लोगन, पोस्टर एवं मॉडल प्रस्तुत किए । इस आयोजन का उद्देश्य युवा पीढ़ी को पर्यावरण के प्रति जागरूक बनाना तथा 4 R (Recycle, Reuse, Reduce and Refuse) पद्धति के महत्व को समझाना था । इस अवसर पर अध्ययनशाला के छात्र-छात्राओं ने वेस्ट सामग्री का उपयोग कर नई कलाकृतियों / वस्तुओं का भौतिकी के नियमानुसार निर्माण कर समाज को इसके प्रति जागरूक होने का संदेश दिया। विभागाध्यक्ष डॉ. स्वाति दुबे ने कार्बन फुट प्रिंट कैम्पेन कि जानकारी दी और उसके बढ़ने से प्रकृति को होने वाले नुकसान के बारे में अवगत कराया । भौतिकी अध्ययनशाला के प्रो़. निश्चल  यादव ने 4 R (Recycle, Reuse, Reduce and Refuse) के महत्व को समझाते हुए कपड़े की थैलियों का निशुल्क वितरण कर ग्रीन उपभोक्ता बनने के लिए प्रेरित किया ।  इस अवसर पर डॉ गणपत अहिरवार, डॉ. रत्ना अग्रवाल, डॉ. प्रिया दुबे, डॉ. अपूर्वा मूले, डॉ

विक्रम विश्वविद्यालय में गांधी जयंती पर 2 अक्टूबर को होगा विशिष्ट व्याख्यान एवं गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि, गांधी जयंती के पूर्व दिवस पर 1 अक्टूबर को होगा मोहन से महात्मा पपेट शो का प्रदर्शन

विक्रम विश्वविद्यालय में गांधी जयंती पर 2 अक्टूबर को होगा विशिष्ट व्याख्यान एवं गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि गांधी जयंती के पूर्व दिवस पर 1 अक्टूबर को होगा मोहन से महात्मा पपेट शो का प्रदर्शन उज्जैन : आजादी के अमृत महोत्सव के आयोजनों की शृंखला में  महात्मा गांधी जयंती के अवसर पर विक्रम विश्वविद्यालय में विशिष्ट व्याख्यान, गांधी जी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि और मोहन से महात्मा पपेट शो का प्रदर्शन किया जाएगा।  गांधी जयंती के पूर्व दिवस पर 1 अक्टूबर 2021, शुक्रवार को दोपहर 3:00 बजे विश्वविद्यालय के स्वर्ण जयंती सभागार में  क्रिएटिव पपेट थिएटर ट्रस्ट, वाराणसी के समूह द्वारा श्री मिथिलेश दुबे के निर्देशन में पपेट शो मोहन से महात्मा का प्रदर्शन किया जाएगा। विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने जानकारी देते हुए यह भी बताया कि,  दिनांक 2 अक्टूबर, शनिवार को महाराजा जीवाजीराव सिंधिया पुस्तकालय परिसर स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा पर पुष्पांजलि होगी।  पुष्पांजलि के पश्चात सभागार में विशिष्ट व्याख्यान होगा। इस अवसर पर लोक एवं जनजातीय साहित्य में स्वाधीनता आ

विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन द्वारा बी.ए. बीएड सहित 7 परीक्षाओं के परिणाम घोषित

उज्जैन  : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलानुशासक प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा ने बताया कि, विक्रम विश्वविद्यालय , उज्जैन  द्वारा बी.ए. बीएड सहित 7 परीक्षाओं  के  परिणाम घोषित हुए हैं, जिसे विद्यार्थी विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर देख सकते हैं... 

विक्रम विश्वविद्यालय के स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग संस्थान में वेबिनार संम्पन्न’’

  उज्जैन : स्कूल ऑफ इंजीनियरिंग एण्ड टेक्नोलॉजी विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन द्वारा कोरोना काल में एवं उसके पश्चात विद्यार्थियों के भविष्य में संभावनाओं को देखते हुवे "स्किल डेवलपमेंट एण्ड एम्पलोयमेंट आपारचनिटी पोस्ट कोविड-19" वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार की मुख्य वक्ता डॉ. पूजा जैन कासलीवाल भोपाल द्वारा बताया गया कि, इंजीनियरिंग विद्यार्थी केसे अपने चार सालों में टाईम मेनेजमेन्ट कर अपनी पढ़ाई के साथ जीवन शैली में कम्यूनिकेशन स्किल को सुधार कर अपनी पर्सनालिटी को प्रभावशाली बनाये इसका सीधा लाभ विद्यार्थियों को मल्टीनेशनल कंपनी के साक्षात्कार में मिलेगा। वेबिनार की अध्यक्षता विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पाण्डे द्वारा की गई कुलपतिजी द्वारा बताया गया कि, प्रतिस्पर्धा के लिये विद्यार्थी स्वयं को कैसे तैयार करें। वेबिनार में विशिष्ट अतिथि विक्रम विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ. प्रशान्त पुराणिक उपस्थित रहे एवं आभार संस्थान के निदेशक डॉ गणपत अहिरवार ने माना। वेबिनार के संयोजक टेकनिकल टीम में राजेश चौहान, आशिष सूर्यवंशी, अमित ठाकुर, सचिन सिरोनिया, रघुनन्

जननी के सम्मुख स्वर्ग को तुच्छ माना गया है - प्रो शर्मा

जननी के सम्मुख स्वर्ग को तुच्छ माना गया है -  प्रो शर्मा  राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा समारोह में अर्पित किए गए मां गीता देवी चौधरी सम्मान   देश की जानी-मानी संस्था राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा माँ ममता : प्रथम गुरु और परिवार की धुरी विषय पर संगोष्ठी के आयोजन में कार्यक्रम की अध्यक्षता राष्ट्रीय महासचिव डॉक्टर प्रभु चौधरी जी ने की।  कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री बी के शर्मा,  पूर्व शिक्षा अधिकारी एवं राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के अध्यक्ष रहे। मुख्य वक्ता के रूप में प्रो. डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा, अध्यक्ष हिंदी विभाग एवं कुलानुशासक विक्रम  विश्वविद्यालय, उज्जैन , विशिष्ट अतिथि के रुप में नागरी लिपि परिषद के महामंत्री डॉ हरिसिंह पाल एवं डॉ शहाबुद्दीन शेख  रहे सूत्र संचालन डॉ रश्मि चौबे, गाजियाबाद ने किया। राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा आभासी संगोष्ठी एवं माँ गीता देवी चौधरी स्मृति सम्मान समारोह आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में श्री बी के शर्मा जी ने कहा कि जब माँ होती है तब हमारी  माँ होती है और बाद में उनके जाने के बाद हमें, बेटी का वेष बदलकर हमारे जीवन में  आ जाती है और उन्ह

माँ का महत्व ईश्वर से बड़ा है - प्रो. शर्मा

माँ का महत्व ईश्वर से बड़ा है- प्रो. शर्मा राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा समारोह मां गीता देवी चौधरी सम्मान देश की जानी-मानी संस्था राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा संगोष्ठी के रूप में शिक्षा ,साहित्य एवं संस्कृति परिचर्चा एवम उद्गार विषय पर संगोष्ठी के आयोजन मेंकार्यक्रम की अध्यक्षता राष्टीय महासचिव डॉक्टर प्रभु चौधरी जी ने की और कार्यक्रम में मुख्य अतिथि श्री बी के शर्मा पूर्व शिक्षा अधिकारी एवं राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना के अध्यक्ष रहे, मुख्य वक्ता के रूप में प्रो. डॉ.शैलेंद्र शर्मा जी अध्यक्ष हिंदी विभाग एवं कुलानुशासक विक्रम विश्वविद्यालय उज्जैन, विशिष्ट अतिथि के रुप में नागरी लिपि परिषद के महामंत्री डॉ हरिसिंह पाल जी एवं डॉ शहाबुद्दीन शेख रहे सूत्र-संचालन डॉ रश्मि चौबे गाजियाबाद ने किया। राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना द्वारा आभासी संगोष्ठी के रूप में माँ गीता देवी चौधरी स्मृति सम्मान समारोह आयोजन में मुख्य अतिथि के रूप में श्री बी के शर्मा जी ने कहा कि जब माँ होती है तब हमारी माँ होती है और बाद में उनके जाने के बाद हमें, बेटी का वेष बदलकर हमारे जीवन में आ जाती है और उ

मध्यप्रदेश खबर

नेशनल न्यूज़