Featured Post

राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना आभासी संगोष्ठी के श्रेष्ठ संचालको का सम्मान समारोह

वैश्विक महामारी कोविड 19 के समयावधि में साहित्यिक विचार विमर्श के आभासी संगोष्ठी का निरन्तर शिक्षा, साहित्य, संस्कृति के लिये संकल्पित संस्था राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना ने 100 आयोजन सम्पन्न होने पर अपने तकनीकी पदाधिकारी एवं समारोह संचालको को 10 जून सायं 5 बजे आयोजित ऑनलाइन कार्यक्रम में सम्मान पत्र अर्पित किये जायेंगे।

यह जानकारी राष्ट्रीय शिक्षक संचेतना महासचिव डॉ. प्रभु चौधरी ने प्रेस विज्ञप्ति में बताया कि श्रेष्ठ संचालक में डॉ. मुक्ता कौशिक रायपुर (मुख्य प्रवक्ता), श्रीमती लता जोशी मुम्बई, सुश्री रोहिणी डावरे अकोले, महाराष्ट्र, डॉ. रश्मि चौबे गाजियाबाद, श्रीमती अर्पणा जोशी धामनोद, श्रीमती पूर्णिमा कौशिक रायपुर डॉ. भरत शेणकर अहमदनगर, श्री सुंदरलाल जोशी ‘सूरज‘ नागदा, श्रीमती गरिमा गर्ग पंचकुला एवं श्रीमती रागिनी शर्मा इन्दौंर होंगे।

समारोह अवसर पर आभासी संगोष्ठी ‘‘सम्प्रेषण कौशल : प्रमुख आयाम और महत्ता‘ का आयोजन किया जाएगा।‘ अध्यक्षता श्री हरेराम वाजपेयी एवं मुख्य वक्ता डॉ. शहाबुद्दीन शेख, मुख्य अतिथि रायपुर के डॉ. विनय कुमार पाठक, विशिष्ट अतिथि डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा, डॉ. मीरासिंह, डॉ. हरीसिंह पाल, डॉ. प्रभु चौधरी एवं संचालक मनीषासिंह रहेगी। 

समारोह में उपस्थित होने की अपील ज्योति तिवारी, डॉ. ममता झा, सुवर्णा जाधव, डॉ. शिवा लोहारिया, सुनीता चौहान, डॉ. सुनीता मंडल, डॉ. चेतना उपाध्याय आदि ने की है।

Comments