Featured Post

आजादी के अमृत महोत्सव पर हुए व्याख्यान

उज्जैन : आजादी का अमृत महोत्सव के उपलक्ष्य में विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन से सम्बद्ध  शासकीय महाविद्यालय, महिदपुर में  विद्वानों ने 1857 की क्रांति, महिदपुर की संधि, प्रजामंडल के कार्यक्रम एवं गोवा मुक्ति आंदोलन जैसे महत्त्वपूर्ण विषयों  पर उद्बोधन दिया। 

इस अवसर पर माननीय कुलपति प्रोफ़ेसर अखिलेश पांडे  ने महिदपुर के स्वतंत्रता संग्राम के क्रांतिवीरों के योगदान को रेखांकित करते हुए अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने युवाओं को कहा वे  क्रांति से जुड़े देश के महान क्रांतिकारियों की जीवनी को पढ़ें कि किस प्रकार उन्होंने भारत को स्वतंत्र कराने में कार्य किया था। आपने महिदपुर के ऐतिहासिक परिदृश्य पर प्रकाश डालते हुए यहां के क्रांतिकारियों पर एक पुस्तक भी प्रकाशित करने का निर्देश प्राचार्य को दिया है।

इस अवसर पर 1857 की क्रांति पर डॉ. आर सी ठाकुर एवं आंग्ल मराठा युद्ध पर इतिहासकार डॉ प्रशांत पुराणिक ने जानकारी प्रदान की। डॉ रमण  सोलंकी, शांतिलाल छजलानी, सुधीर मूणत ने प्रजामंडल की गतिविधियों और गोवा मुक्ति आंदोलन से संबंधित महिदपुर के क्रांतिकारियों को रेखांकित किया।

 इस अवसर पर शासकीय महाविद्यालय की प्राचार्य डॉ आशा सक्सेना, प्राध्यापक एवं छात्र छात्राएं उपस्थित थे।

Comments