Featured Post

विक्रम विश्वविद्यालय और मैपकास्ट के बीच हुआ महत्वपूर्ण एमओयू ; एस्ट्रोफिजिक्स एवं स्पेस साइंस में कैरियर के अवसर मिलेंगे विद्यार्थियों को


विक्रम विश्वविद्यालय और मैपकास्ट के बीच हुआ महत्वपूर्ण एमओयू
एस्ट्रोफिजिक्स एवं स्पेस साइंस में कैरियर के अवसर मिलेंगे विद्यार्थियों को 

उज्जैन : विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन एवं  मध्य प्रदेश विज्ञान एवं तकनीकी परिषद - मैपकॉस्ट, भोपाल के मध्य महत्वपूर्ण एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए।  इस एमओयू के माध्यम से विश्वविद्यालय की भौतिकी अध्ययनशाला के विद्यार्थी और शोधार्थी एस्ट्रोफिजिक्स एवं स्पेस साइंस, एस्ट्रोनॉमी आदि जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में ज्ञान अर्जित कर सकेंगे। इस एमओयू पर मध्य प्रदेश विज्ञान एवं तकनीकी परिषद के महानिदेशक प्रोफेसर अनिल कोठारी एवं विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलपति आचार्य अखिलेश कुमार पांडेय ने हस्ताक्षर किए।

इस अवसर पर कुलानुशासक प्रो. शैलेंद्र कुमार शर्मा, मध्य प्रदेश विज्ञान एवं तकनीकी परिषद के वरिष्ठ प्रधान वैज्ञानिक डॉ राजेश शर्मा, भौतिकी अध्ययनशाला की विभागाध्यक्ष डॉ स्वाति दुबे, डोंगला ऑब्जर्वेटरी प्रभारी डॉ भूपेश सक्सेना आदि विशेष रूप से उपस्थित थे।

यह जानकारी देते हुए भौतिकी अध्ययनशाला की अध्यक्ष एवं मध्य प्रदेश प्रौद्योगिकी परिषद की नोडल कोऑर्डिनेटर डॉ स्वाति दुबे ने बताया कि इस एमओयू के माध्यम से डोंगला स्थित वराहमिहिर एस्टॉनोमिकल ऑब्जर्वेटरी के माध्यम से प्रदत्त सुविधाओं से विश्वविद्यालय के विद्यार्थी एवं शोधार्थी लाभान्वित होंगे। शोधार्थी इन अध्ययन क्षेत्रों  से जुड़ी महत्त्वपूर्ण परियोजनाएं एवं शोध कार्य कर सकेंगे। भौतिकी अध्ययनशाला में सत्र 2021 - 22  से पीजी डिप्लोमा इन एस्ट्रोफिजिक्स पाठ्यक्रम प्रारंभ किया जा रहा है, जिससे क्षेत्र के विद्यार्थियों को एस्ट्रोफिजिक्स जैसे रोचक विषय का ज्ञान प्राप्त होगा।  इसके माध्यम से उन्हें अपने कैरियर को आकार देने का सुनहरा  अवसर मिलेगा। एमओयू हस्ताक्षर के मौके पर डीएसडब्ल्यू डॉ रामकुमार अहिरवार, डॉ उमेश कुमार सिंह, डॉ कमलेश दशोरा, डॉ एस के जैन, डॉ चित्रलेखा कड़ेल, डॉ अखिलेश तिवारी आदि उपस्थित रहे। मंगलाचरण डॉ राजेश्वर शास्त्री मुसलगांवकर ने किया।

Comments