Featured Post

विक्रम विश्वविद्यालय कार्यपरिषद की बैठक सम्पन्न

उज्जैन। विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन की कार्यपरिषद् की बैठक दिनांक 22.01.2021 को सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता कुलपति प्रो. अखिलेश कुमार पाण्डेय ने की। बैठक में कार्यपरिषद् के सदस्य श्री राजेश सिंह कुशवाह, श्री सचिन दवे, सुश्री ममता बैंडवाल, श्रीमती कुसुमलता निंगवाल, डॉ. विनोद यादव, डॉ. दीपक गुप्ता, डॉ. पी.के. वर्मा, डॉ. दिनेश कुमार सोनी, डॉ. प्रतिभा कोठारी, डॉ. गोविन्द गन्धे, डॉ. जे.पी. चौरसिया, संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा श्री आर.पी.एस. यादव एवं प्रभारी कुलसचिव डॉ. डी.के. बग्गा उपस्थित थे।

प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा, कुलानुशासक, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि, बैठक में पूर्व कार्यपरिषद की बैठक दिनांक 08.09.2020, विद्यापरिषद की स्थाई समिति एवं विद्या संबंधी योजना एवं मूल्यांकन बोर्ड की पूर्व की बैठकों के कार्य विवरण की पुष्टि की गई।

महामना पंडित मदन मोहन मालवीय जी की मूर्ति की स्थापना करने संबंधी प्रस्ताव कार्यपरिषद् में स्वीकृत किया गया।

शिक्षकों के नियमितीकरण पर विचारोपरांत नियमितीकरण का निर्णय लिया गया। सी. ए. एस. के अन्तर्गत सहायक प्राध्यापकों को प्रथम स्तर से द्वितीय स्तर उन्नयन वेतनमान प्रदान करने का निर्णय लिया गया। विश्वविद्यालय के गैर शिक्षकीय कर्मचारियों/अधिकारियों को सातवें वेतनमान के एरियर का लाभ प्रदान करने का निर्णय लिया गया। स्कूल ऑफ इंजीनीयरिंग एण्ड टेक्नालॉजी, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन से प्राप्त एम.टेक. पाठ्यक्रम के अध्यादेश की स्वीकृति हेतु प्रस्ताव कार्यपरिषद् में पारित किया गया।

प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा, कुलानुशासक, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि, शोध अभ्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत शोध प्रबंधों के परीक्षकों की अनुशंसा के आधार पर प्रदान की गई पीएच.डी. उपाधि की सूचना ग्राह्य की गई।

प्रभारी कुलसचिव डॉ.डी.के. बग्गा ने आभार व्यक्त किया।

Comments