Skip to main content

कोरोना वेक्सीन के लिये भोपाल के 3 केन्द्रों पर सफलतापूर्वक हुआ ड्राय रन

प्रोटोकॉल का पालन करते हुए 75 व्यक्तियों पर की वेक्सीन रिहर्सल
एसीएस - आयुक्त स्वास्थ्य की निगरानी में हुआ ड्राय रन
 

भोपाल : शनिवार, जनवरी 2, 2021


कोरोना वेक्सीनेशन के लिये शनिवार 2 जनवरी को भोपाल के 3 वेक्सीनेशन केन्द्रों पर ड्राय रन सफलतापूर्वक सम्पन्न हुआ। कोविन एप पर वेक्सीनेशन के लिये चुने गये 75 व्यक्तियों के सफलतापूर्वक ड्राय रन में (रिहर्सल में) वेक्सीनेशन होने के आँकडे 11 बजे के बाद ऑनलाइन प्रदर्शित होने लगे। चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग ने गोविंदपुरा स्वास्थ्य केन्द्र स्थित वेक्सीनेशन केन्द्र पहुँचकर ड्राय रन की प्रक्रिया का जायजा लिया। उन्होंने वेक्सीनेशन रिहर्सल के लिए पहुँचे व्यक्तियों और वेक्सीनेशन टीम के अधिकारियों, कर्मचारियों से चर्चा की। ड्राय रन के सफलतापूर्वक सम्पन्न होने पर एसीएस स्वास्थ्य मो. सुलेमान ने ड्राय रन की समीक्षा की और ड्राय रन को संचालित करने वाले स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारी, कर्मचारियों को बधाई दी।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना वैक्सीन के 'ड्राय रन' की सफलता पर दी बधाई

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज भोपाल के 3 स्वास्थ्य केंद्रों पर कोरोना वैक्सीन का ड्राय रन (रिहर्सल) सफलतापूर्वक संपन्न किए जाने पर स्वास्थ्य विभाग सहित संबंधित सभी को बधाई दी है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा है कि हमारे दूरदर्शी एवं यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के कुशल नेतृत्व में हम कोरोना महामारी पर पूर्ण रूप से नियंत्रण की दिशा में तेज गति से आगे बढ़ रहे हैं। पूरे देश में कोरोना वैक्सीन की ट्रायल सफलतापूर्वक हो रही है और शीघ्र ही नागरिकों को कोरोना वैक्सीन लगाए जाने का कार्य प्रारंभ हो जाएगा।

ड्राय रन भोपाल में 3 वेक्सीनेशन केन्द्रों पर किया गया। वेक्सीनेशन केन्द्र गाँधीनगर स्वास्थ्य केन्द्र, गोविंदपुरा स्वास्थ्य केन्द्र और एल.एन. मेडिकल कॉलेज कोलार में बनाये गये थे। इन 3 वेक्सीनेशन केन्द्रों पर जिनका ड्राय रन वेक्सीनेशन किया जाना था, उनका पूर्व में चयन कर लिया गया था। इसके साथ ही उन्हें वेक्सीनेशन की तारीख, वेक्सीनेशन केन्द्र और समय की जानकारी एसएमएस द्वारा दी गई थी। ड्राय रन की पूर्व संध्या पर स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा इन सभी व्यक्तियों से टेलीफोनिक टॉक की गई, जिसमें उन्होंने बताया कि उन्हें यह मालूम है कि उन्हें कब और कहां, किस समय वेक्सीनेशन (रिहर्सल) के लिये पहुँचना है। इसी के साथ-साथ स्वास्थ्य विभाग के टीकाकरण से जुड़े अधिकारियों ने तीनों वेक्सीनेशन केन्द्रों का एक जनवरी की रात्रि में औचक निरीक्षण कर प्रोटोकॉल पालन के लिए चेकलिस्ट के अनुसार की गई व्यवस्थाओं का निरीक्षण किया।

कोविड-19 वेक्सीनेशन के सभी प्रोटोकॉल्स का पालन सुनिश्चित करते हुए शनिवार 2 जनवरी की सुबह 9 बजे से ड्राय रन शुरू किया गया। प्रत्येक वेक्सीनेशन केन्द्र पर 25 व्यक्तियों का ड्राय रन वेक्सीनेशन किया गया। वेक्सीनेशन केन्द्र पर व्यक्तियों के पहुँचने पर उन्हें प्रतीक्षा कक्ष में बैठाने, वेक्सीनेशन के लिये तैयार करने की व्यवस्था की गई थी, इसमें सोशल डिस्टेंसिंग का पालन, हैंडवॉश और मास्‍क पहनने सहित अन्य प्रोटोकॉल्स का पालन किया गया। ड्राय रन वेक्सीनेशन के लिये भेजने से पहले व्यक्ति का इन्फ्रारेड टेम्प्रेचर और पल्स ऑक्सीमीटर से परीक्षण किया गया, इसके बाद संबंधित की पहचान का सत्यापन कर प्रतीक्षा कक्ष में रखा गया। उन्हें वेक्सीनेशन के संबंध में जरूरी संदेश भी दिये गये।

वेक्सीनेशन कक्ष में एक-एक व्यक्ति को क्रम से प्रवेश दिया गया, जहाँ पर उनका वेक्सीनेशन करने वाले कार्यकर्ता ने रिहर्सल वेक्सीनेशन किया। इसके बाद उन्हें आब्जरवेशन रूम में रखा गया। आब्जरवेशन रूम में सभी व्यक्तियों को पूरे प्रोटोकॉल के साथ 30 मिनट तक रोका गया। आब्जरवेशन रूम में चिकित्सकों का स्टॉफ ऐसी सभी औषधियों के साथ मौजूद रहा, जिनसे किसी भी प्रकार का साइड इफेक्ट कंट्रोल किया जा सकता था। आधा घंटा पूरा होने के बाद ड्राय रन वेक्सीनेट किये गये व्यक्ति पूरी तरह से स्वस्थ्य और घर जाने के लिये तैयार थे। उनके मोबाइल पर एक संदेश, आपको कोविड-19 वेक्सीन की पहली डोज़ आज 2 जनवरी 2021 को सफलतापूर्वक किये जाने की जानकारी दी गई। यह संदेश कोविन एप पर भी प्रदर्शित हो रहा है। इसी प्रकार का संदेश भोपाल में जिन 75 व्यक्तियों को ड्राय रन में कोविड-19 का रिहर्सल वेक्सीनेशन किया गया, उन सभी के मोबाइल पर यह संदेश भेजा गया।

स्वास्थ्य आयुक्त डॉ. संजय गोयल, राज्य टीकाकरण अधिकारी डॉ. संतोष शुक्ला, राज्य कोल्ड चेन अधिकारी विपित श्रीवास्तव, उप संचालक चिकित्सा डॉ. पद्माकर त्रिपाठी, डॉ. सौरभ पुरोहित ने सभी केन्द्रों पर पहुँचकर ड्राय रन की मॉनिटरिंग की। ड्राय रन को इंटरनल टीम मॉनिटरिंग के अतिरिक्त डब्ल्यू.एच.ओ., यूनिसेफ और चाई के प्रतिनिधियों ने भी मॉनिटर किया। वेक्सीनेशन केन्द्रों पर पेयजल सहित अन्य जरूरी व्यवस्थाएँ और प्रोटोकॉल के संबंध में जानकारी को प्रदर्शित किया गया था।

Comments

Popular posts from this blog

आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर द्वारा आयोजित बी. ए. एम. एस. प्रथम वर्ष एवं तृतीय वर्ष में छात्राओं ने बाजी मारी

आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर द्वारा आयोजित बी ए एम एस प्रथम वर्ष एवं तृतीय वर्ष में छात्राओं ने बाजी मारी शासकीय धन्वंतरी आयुर्वेद उज्जैन में महाविद्यालय बी ए एम एस प्रथम वर्ष नेहा गोयल प्रथम, प्रगति चौहान द्वितीय स्थान, दीपाली गुज़र तृतीय स्थान. इसी प्रकार बी ए एम एस तृतीय वर्ष गरिमा सिसोदिया प्रथम स्थान, द्वितीय स्थान पर आकांक्षा सूर्यवंशी एवं तृतीय स्थान पर स्नेहा अलवानी ने बाजी मारी. इस अवसर पर महाविद्यालय के समस्त अध्यापक एवं प्रधानाचार्य द्वारा छात्राओं को बधाई दी और महाविद्यालय में हर्ष व्याप्त है उक्त जानकारी महाविद्यालय के मीडिया प्रभारी डॉ प्रकाश जोशी, डा आशीष शर्मा छात्र कक्ष प्रभारी द्वारा दी गई. 

श्री खाटू श्याम जी के दर्शन 11 नवम्बर, 2020 से पुनः प्रारम्भ, दर्शन करने के लिए लेना होगी ऑनलाइन अनुमति

■ श्री खाटू श्याम जी के दर्शन 11 नवम्बर, 2020 से पुनः प्रारम्भ ■ दर्शन करने के लिए लेना होगी ऑनलाइन अनुमति श्री श्याम मन्दिर कमेटी (रजि.),  खाटू श्यामजी, जिला--सीकर (राजस्थान) 332602   फोन नम्बर : 01576-231182                    01576-231482 💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐 #जय_श्री_श्याम  #आम #सूचना   दर्शनार्थियों की भावना एवं कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को दृष्टिगत रखते हुए सर्वेश्वर श्याम प्रभु के दर्शन बुधवार दिनांक 11-11-2020 से पुनः खोले जा रहे है । कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार को दृष्टिगत रखते हुए गृहमंत्रालय द्वारा निर्धारित गाइड लाइन के अधीन मंदिर के पट खोले जाएंगे । ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 11-11-2020 से चालू होंगी । दर्शनार्थी भीड़ एवं असुविधा से बचने के लिए   https://shrishyamdarshan.in/darshan-booking/ पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है ।  नियमानुसार सूचित हो और व्यवस्था बनाने में सहयोग करे। श्री खाटू श्याम जी के दर्शन करने के लिए, ऑनलाइन आवेदन करें.. 👇  https://shrishyamdarshan.in/darshan-booking/ 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 साद

विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा सितंबर में आयोजित परीक्षाओं के लिए उत्तर पुस्तिका संग्रहण केंद्रों की सूची जारी

उज्जैन। स्नातक एवं स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष या अंतिम सेमेस्टर की ओपन बुक पद्धति से होने वाली परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं के संग्रहण केंद्रों की सूची विक्रम विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। संपूर्ण परिक्षेत्र के 7 जिलों में कुल 395 संग्रहण केंद्र बनाए गए हैं। कुलानुशासक, डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा जी ने जानकारी देते हुए बताया कि, विद्यार्थीगण विश्वविद्यालय की वेबसाइट से संग्रहण केंद्रों की सूची देख सकते हैं। http://vikramuniv.ac.in/examination-notification/ सूची संलग्न दी जा रही है।