Featured Post

उमंग श्री महिला मंडल ने बच्चों के संग मनाई गाँधी जी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती ; ऑनलाइन चित्रकला-सुविचार प्रतियोगिता आयोजित


उज्जैन । 02 अक्टूबर दिवस पर उमंग श्री महिला मंडल ने बच्चों के संग मनाई गाँधी जी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी की जयंती एवं ऑनलाइन चित्रकला और सुविचार प्रतियोगिता आयोजित की गई । संस्था कार्यालय पर भी कुछ प्रतिभागियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज कराई ।उमंग श्री महिला मंडल अध्यक्षा श्रीमती अनुपमा ने प्रतिभागीयों को सराहाऔर प्रोतसाहीत किया । प्रतिभागी सुमित , प्रीयांगी, दिया, रोहित, कीर्ति,वैभव,दिव्यांश आदि ने भाग लिया ।


इस विषय पर विशेष अतिथि उतराखण्ड के श्री सुनील वरूण जी ने अपने विचार इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से संस्था सदस्यों एवं अन्य जन के साथ सांझा किये ।उन्होंने कहा गाँधी जी और शास्त्री जी के जीवन से हम सीख लेकर आज के परिप्रेक्ष्य में भी म से सफल हो सकते हैं । इन दोनों की शक्सियत प्रेरणा के अनवरत बहने वाले स्रोत हैं । हमें इनके जीवन के अनुभवों को आत्मसात करना चाहिए ।लाल बहादुर शास्त्री को महान निष्ठा और सक्षम व्यक्ति के रूप में जाना जाता है. वह महान आंतरिक शक्ति के साथ विनम्र, सहनशील थे जो आम आदमी की भाषा को समझते थे। वे महात्मा गांधी की शिक्षाओं से गहराई से प्रभावित थे और एक दृष्टि के व्यक्ति भी थे, जिन्होंने देश को प्रगति की ओर अग्रसर किया।


गांधी जी ने सरलता एवं सादगीभरा जीवनयापन किया। बापू का भारत की आजादी में योगदान अमूल्य है ।


महात्मा गांधी हर धर्म और जाति से जुड़े हुए थे। गांधीजी ने सत्य और अहिंसा की राह पर चल कर सत्याग्रह की नींव रखी। उनके जीवन में कई कठिन मोड़ आए किंतु उन्होंने सत्य का साथ कभी नहीं छोड़ा।


Comments