Featured Post

मध्यप्रदेश को-आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशन ने केन्द्र सरकार द्वारा श्रम विरोधी दृष्टिकोण के तहत बनाये गये श्रम कानूनों को रद्द करने के संबंध में प्रधानमंत्री और श्रम मंत्री को लिखा पत्र


इंदौर 22 मई 2020 : श्री जी.आर.निमगांवकर (महासचिव ) मध्यप्रदेश को-आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशनने, इंदौर ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्यप्रदेश को-आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशनने, इंदौर ने आज प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और श्रममंत्री श्री संतोष गंगवार जी को केन्द्र सरकार द्वारा श्रम विरोधी दृष्टिकोण के तहत बनाये गये श्रम कानूनों  को रद्द करने के लिए पत्र लिखा हैं । 


आपने अपने पत्र मे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी और श्रममंत्री श्री संतोष गंगवार जी को लिखा है कि


"उपरोक्त्त विषय मे निवेदन है कि केंद्रीय श्रम संघों तथा "ऑल इंडिया बैंक एम्प्लाइज एसोसिएशन के आह्वान पर मध्यप्रदेश को आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशन इस कार्यवाही जो  केन्द्र सरकार ने श्रमिक विरोधी कानूनों मे परिवर्तन को मंजूरी दी है उसका मध्यप्रदेश को आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशन  पुरजोर विरोध करता है तथा हम आपसे अनुरोध करते है कि :- 
(1) पूर्व से प्रचलित श्रम कानूनों मे समस्त श्रम संगठनों से चर्चा कर निर्णय लिया जावे तब तक श्रम कानूनों मे छेडछाड बंद कर  श्रम कानूनों को वापस लिया जावे।
(2) सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के निजीकरण एंव विदेशी करण पर रोक लगाई जावे ।
(3) कोरोना की आड़ मे देश की संपदा बेचना बंद किया जावे ।
(4) सामाजिक सुरक्षा मे भेदभाव नही करते हुए संगठित क्षेत्र के श्रमिकों को भी शासकीय कर्मचारीयो के समान सेवानिवृत्त पेन्शन एंव सुविधाऐं मे एकरूपता स्थापित कर सुविधाओ मे बढोत्री की फेडरेशन आपसे अपेक्षा करता है की आपके द्वारा श्रम कानूनों  मे किये गये परिवर्तन को रद्द कर उसे मूलरूप मे रहने देने मे सहयोग प्रदान करेगे ।
सहयोग की अपेक्षा मे ।"



मध्यप्रदेश को आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशन 
पता - केन्द्रिय कार्यालय 802 राजानी बिल्डिंग एम .जी . रोड इन्दौर , मध्यप्रदेश 
ई-मेल - mpcbef@gmail.com
जी.आर.निमगांवकर (महासचिव )
मध्यप्रदेश को आपरेटिव बैक एम्पलाईज फेडरेशन
99260 - 19860 


Bkk News


Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर


Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets - http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar


Comments