Skip to main content

■ 14000 से अधिक भोजन के पैकेट्स नियमित रूप से जरूरत मंद व्यक्तियों को बांटे जा रहे हैं ■ जरूरतमंद परिवार के 3 साल तक के बच्चों के लिए भी दूध के पैकेट्स बांटे जा रहे हैं ■ जनप्रतिनिधियों के सहयोग के अब मीठा और सेव भी बाँटना शुरू हुआ ■ वरिष्ठ भाजपा नेता श्री कैलाश विजयवर्गीय, विधायक श्री पारस चन्द्र जैन, मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट आदि जनप्रतिनिधियों ने दिया जनसेवा के कार्यों में महत्वपूर्ण योगदान ■ इंदौर, उज्जैन, देवास, मक्सी, सांवेर आदि क्षेत्रों के जरूरत मंद व्यक्तियों तक पहुँच रहे हैं भोजन के पैकेट्स

#COVID19 -- #सामाजिक #सरोकार #की #ख़बर 💐💐


■ 14000 से अधिक भोजन के पैकेट्स नियमित रूप से जरूरत मंद व्यक्तियों को बांटे जा रहे हैं


■ जरूरतमंद परिवार के 3 साल तक के बच्चों के लिए भी दूध के पैकेट्स बांटे जा रहे हैं


■ जनप्रतिनिधियों के सहयोग के अब मीठा और सेव भी बाँटना शुरू हुआ


■ वरिष्ठ भाजपा नेता श्री कैलाश विजयवर्गीय, विधायक श्री पारस चन्द्र जैन, मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट आदि जनप्रतिनिधियों ने दिया जनसेवा के कार्यों में महत्वपूर्ण योगदान


■ इंदौर, उज्जैन, देवास, मक्सी, सांवेर आदि क्षेत्रों के जरूरत मंद व्यक्तियों तक पहुँच रहे हैं भोजन के पैकेट्स


🌹🌹🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🕉️🌹🌹



भोपाल/इंदौर/उज्जैन, शनिवार, 02 मई, 2020 । इंदौर व  उज्जैन जिला रेड झोन होने से लॉकडाउन के तीसरे चरण में 2  सप्ताह के लिए 4 मई से 17 मई 2020 तक की अवधि का लॉकडाउन सख्ती से लागू होने के आदेश आते ही क्षेत्र के जनप्रतिनिधि, जरूरत मंद लोगो की सेवा में अपनी जान झोखिम में डाल 17 मई 2020 तक भोजन व्यवस्था करने हेतु  जुट गए है ।



इसमे सबसे आगे बढ़कर पहल इंदौर के लोकप्रिय भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव श्री कैलाश विजयवर्गीय ने की है। श्री कैलाश विजयवर्गीय एवं इंडो थाई सिक्योरिटीज इंदौर के एम डी श्री पारस दोसी ने उज्जयिनी सेवा समिति को लगभग 14000 भोजन पेकेट्स में आज मीठी नुक्ती भी देने का आग्रह कर सम्पूर्ण खर्च का सहयोग किया तथा आज इंदौर में 2500 भोजन पेकेट्स मीठी नुक्ती के साथ 250 दूध के पेकेट्स का भी इंदौर में वितरण किया।


उल्लेखनीय है कि, 26 मार्च 2020 से ही बाबा महाकाल की नगरी उज्जैन से नियमित रूप से 14000 से अधिक भोजन पेकेट्स सुप्रसिद्ध उद्योगपति 93 वर्षीय श्री महावीर प्रसाद मानसिंगका  एवं उज्जैन जिला प्रशासन के सहयोग से बनाकर 10000 भोजन पेकेट्स उज्जैन में, 2500 इंदौर में, 1000 देवास में एवं 1000 मक्सी में जरूरत मंदो के लिए वितरित किये जा रहे है। साथ ही समिति द्वारा जिला जज उज्जैन श्री एस के कुलकर्णी के सहयोग से अमृत योजना के तहत 1200 दूध के पेकेट्स 3 साल तक के बच्चों के लिए वितरीत किये जा रहे है।



         वरिष्ठ भाजपा नेता श्री कैलाश विजयवर्गीय के सहयोग से आज उज्जैन, इंदौर, देवास एवं मक्सी में वितरित होने वाली मीठी नुक्ती बनाने की शुरुआत उज्जैन उत्तर के लोकप्रिय विधायक एवं मध्यप्रदेश शासन के पूर्व मंत्री श्री पारस चन्द्र जैन ने स्वयं मीठी नुक्ती तल कर की। इसके साथ ही लोकप्रिय विधायक श्री पारस चन्द्र जैन द्वारा समिति से सेव बनाने का आग्रह करते हुए इस कार्य में लगने वाली सम्पूर्ण व्यय राशि भी तत्काल ही प्रदान की गई । 


कोरोना संकट के दौरान इंदौर संभाग के प्रभारी मंत्री श्री तुलसी राम  सिलावट द्वारा भी समिति को एक दिन की मीठी बूंदी निर्माण में लगने वाली सम्पूर्ण खाद्य सामग्री प्रदान कर उज्जयिनी सेवा समिति के साथ मिलकर सांवेर में नियमित 500 भोजन पैकेट्स एवं 50 दूध के पेकेट्स का वितरण भी आज से शुरू कर दिया है। 


उज्जैन के सुप्रसिद्ध डॉ पी एम कुमावत जी द्वारा अपनी स्वर्गीय माता श्रीमती शारदा देवी कुमावत जी की स्मृति में 8 मई 2020 को मीठे का समूर्ण खर्च उठाने की इच्छा व्यक्त की गई है।



उज्जैन--आलोट संसदीय क्षेत्र से निर्वाचित भाजपा के सांसद श्री अनिल फिरोजिया एवं उज्जैन नगर पालिका निगम की महापौर श्रीमती मीना जौनवाल ने भी भोजन शाला पहुँचकर भोजन निर्माण में अपना सहयोग दिया है।


पिछले 26 मार्च 2020 से नियमित बिना मीठे और बिना सेव के  भोजन कर रहे जरूरत मंद व्यक्तियों को भी अब सेव और मीठा नियमित रूप से मिलेगा ।


लॉकडाउन के दौरान  घर मे रह कर शासन--प्रशासन का सहयोग करने वाले जिम्मेदार नागरिकों के लिए भी यह सुखद है कि, जन प्रतिनिधि अब स्वयं भी समाज सेवी संस्थाओं के साथ मैदान में उतरकर सहयोग  कर उनके भोजन को स्वादिष्ट बनाने की व्यवस्था में जुट रहे है,  यह सभी के लिए गौरवपूर्ण बात है । सेवा करने वाले जनप्रतिनिधियों के क्षेत्र के मतदाता और नागरिक भी इस क्षण को देख-सुन आनंदित हो गए हैं और स्वयं को भाग्यशाली मानते हैं कि, हमने अच्छे जनप्रतिनिधियों को चुना है जो मानवीय , संवेदनाओं को समझते हैं और फिर उसकी सेवा में सदैव ही जुटे रहते हैं ।



✍ राधेश्याम चौऋषिया
सम्पादक : बेख़बरों की खबर
https://bkknews.page/



Bkk News


Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर


Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets - http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar



Comments

मध्यप्रदेश खबर

नेशनल न्यूज़

Popular posts from this blog

आधे अधूरे - मोहन राकेश : पाठ और समीक्षाएँ | मोहन राकेश और उनका आधे अधूरे : मध्यवर्गीय जीवन के बीच स्त्री पुरुष सम्बन्धों का रूपायन

  आधे अधूरे - मोहन राकेश : पीडीएफ और समीक्षाएँ |  Adhe Adhure - Mohan Rakesh : pdf & Reviews मोहन राकेश और उनका आधे अधूरे - प्रो शैलेंद्रकुमार शर्मा हिन्दी के बहुमुखी प्रतिभा संपन्न नाट्य लेखक और कथाकार मोहन राकेश का जन्म  8 जनवरी 1925 को अमृतसर, पंजाब में  हुआ। उन्होंने  पंजाब विश्वविद्यालय से हिन्दी और अंग्रेज़ी में एम ए उपाधि अर्जित की थी। उनकी नाट्य त्रयी -  आषाढ़ का एक दिन, लहरों के राजहंस और आधे-अधूरे भारतीय नाट्य साहित्य की उपलब्धि के रूप में मान्य हैं।   उनके उपन्यास और  कहानियों में एक निरंतर विकास मिलता है, जिससे वे आधुनिक मनुष्य की नियति के निकट से निकटतर आते गए हैं।  उनकी खूबी यह थी कि वे कथा-शिल्प के महारथी थे और उनकी भाषा में गज़ब का सधाव ही नहीं, एक शास्त्रीय अनुशासन भी है। कहानी से लेकर उपन्यास तक उनकी कथा-भूमि शहरी मध्य वर्ग है। कुछ कहानियों में भारत-विभाजन की पीड़ा बहुत सशक्त रूप में अभिव्यक्त हुई है।  मोहन राकेश की कहानियां नई कहानी को एक अपूर्व देन के रूप में स्वीकार की जाती हैं। उनकी कहानियों में आधुनिक जीवन का कोई-न-कोई विशिष्ट पहलू उजागर

कुलपति प्रो अखिलेश कुमार पांडेय को नई शिक्षा नीति का उत्कृष्ट पुरस्कार

  उज्जैन : मध्यप्रदेश में नई शिक्षा नीति का सर्वप्रथम क्रियान्वयन करने पर जबलपुर में आयोजित राष्ट्रीय सेमिनार में विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन के कुलपति प्रो अखिलेश कुमार पांडेय को नई शिक्षा नीति में उत्कृष्ट पुरस्कार से सम्मानित किया गया। एनवायरनमेंट एवं सोशल वेलफेयर सोसाइटी, खजुराहो एवं प्राणीशास्त्र एवं जैवप्रौद्योगिकी विभाग, शासकीय विज्ञान स्नातकोत्तर महाविद्यालय, जबलपुर के संयुक्त तत्वाधान में आयोजन दो दिवसीय राष्ट्रीय संगोष्ठी का आयोजन जबलपुर में किया गया। इस अवसर पर मध्य प्रदेश में नई शिक्षा नीति के सर्वप्रथम क्रियान्वयन के लिए विक्रम विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो अखिलेश कुमार पांडेय को नई शिक्षानीति में उत्कृष्ट पुरस्कार से सम्मानित किया गया। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो अखिलेश कुमार पांडेय की प्रशासनिक कार्यकुशलता से आज विश्वविद्यालय नई शिक्षा का क्रियान्वयन करने वाला प्रदेश का पहला विश्वविद्यालय है। इस उपलब्धि के लिए विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ प्रशांत पुराणिक एवं कुलानुशासक प्रो शैलेन्द्र कुमार शर्मा ने कुलपति प्रो पांडेय के प्रति आभार व्यक्त करते हुए उन्हें हार्दिक

केबिनेट मंत्री का मिला दर्जा निगम, मंडल, बोर्ड तथा प्राधिकरण के अध्यक्षों को, उपाध्यक्षों को मिला राज्य मंत्री का दर्जा

भोपाल : बुधवार, दिसम्बर 29, 2021 - मध्यप्रदेश शासन ने निगम, मण्डल, बोर्ड और प्राधिकरण के नव-नियुक्त अध्यक्षों को केबिनेट मंत्री का दर्जा प्रदान करने के आदेश जारी कर दिये हैं। केबिनेट मंत्री का दर्जा उनके कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से प्राप्त होगा। इसी प्रकार निगम, मण्डल, बोर्ड और प्राधिकरण के नव-नियुक्त उपाध्यक्षों को राज्य मंत्री का दर्जा प्रदान करने के आदेश भी जारी हो गये हैं। यह भी संबंधित नव-नियुक्त उपाध्यक्षों को उनके कार्यभार ग्रहण करने की तिथि से प्राप्त होगा। मध्यप्रदेश राज्य शासन ने बुधवार, 29 दिसम्बर 2021 को श्री शैलेन्द्र बरूआ मध्यप्रदेश पाठ्य-पुस्तक निगम, श्री शैलेन्द्र शर्मा मध्यप्रदेश राज्य कौशल विकास एवं रोजगार निर्माण बोर्ड, श्री जितेन्द्र लिटौरिया मध्यप्रदेश खादी तथा ग्रामोद्योग बोर्ड, श्रीमती इमरती देवी मध्यप्रदेश लघु उद्योग निगम लिमिटेड, श्री एंदल सिंह कंषाना मध्यप्रदेश स्टेट एग्रो इंडस्ट्रीज डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन लिमिटेड, श्री गिर्राज दण्डोतिया मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम, श्री रणवीर जाटव संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम लिमिटेड, श्री जसवंत