Featured Post

शासकीय विभागों के विज्ञापन एवं निविदा प्रकाशित करवाने की प्रक्रिया हुई सरलीकृत

अब ऑनलाइन भेजे जा सकेंगे विज्ञापन



इंदौर 12 जुलाई 2020 - विभिन्न शासकीय विभागों द्वारा समाचार पत्रों में प्रकाशित कराये जाने वाले विज्ञापनों की प्रक्रिया को सरलीकृत किया गया है। अब कोई भी विभाग ऑनलाइन विज्ञापन भेजकर समाचार पत्रों में विज्ञापन एवं निविदाएं प्रकाशित करवा सकेंगे। जनसम्पर्क विभाग द्वारा विभिन्न शासकीय विभागों की सुविधा और विज्ञापनों के त्वरित सम्प्रेषण के लिए विज्ञापन (निविदा एवं प्रदर्शन विज्ञापन) को ऑनलाइन प्राप्त करने के लिए सॉफ्टवेयर dpradvt.mpinfo.org तैयार किया गया है। इस सॉफ्टवेयर को जनसम्पर्क संचालनालय की विभागीय वेवसाईट www.mpinfo.org पर लिंक किया गया है। 
 इस सॉफ्टवेयर से समस्त विभाग एवं संचालनालय के माध्यम से ऑनलाईन निविदा एवं प्रदर्शन विज्ञापन भेज सकते है। इस साफ्वेयर में शासकीय विभाग की लॉगिन करने पर एक डेशबोर्ड प्रदर्शित होगा। इस डेशबोर्ड पर संबंधित विभाग का बजट, जारी की गई निविदा, निविदा किन-किन समाचार-प्रचार में प्रकाशित हुई हैं, किस स्थान पर प्रकाशित हुई, समाचार-पत्र की प्रति आदि की जानकारी प्रदर्शित होगी।


       निविदा एवं प्रदर्शन विज्ञापन अब व्यक्तिगत, डाक या किसी अन्य माध्यम से जनसम्पर्क संचालनालय की विज्ञापन शाखा में प्राप्त नहीं किये जायेंगें। निविदा एवं विज्ञापन केवल ऑनलाइन ही प्राप्त किये जायेंगे। लोक निर्माण विभाग, सिंचाई विभाग, सड़क विकास प्राधिकरण, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, आदिवासी विकास, वन विभाग, राजस्व विभाग एवं अन्य विभाग जिनके द्वारा विज्ञापन एवं निविदा प्रकाशित कराये जाते हैं, उनके जिला अधिकारियों से कहा गया है कि वे अपने कार्यालय से इस कार्य को करने वाले नोडल अधिकारी को जनसम्पर्क संचालनालय में प्रात: 11 से शाम 5 बजे के बीच भेजें, जहां वे आईटी कन्सलटेंट श्री कृष्णा शर्मा से सम्पर्क कर विज्ञापन के ऑनलाईन भेजने की प्रक्रिया की जानकारी लेंगें और अपने विभाग के लिए आईडी पासवर्ड प्राप्त करेंगें। ऑनलाइन निविदा एवं विज्ञापन भेजने में यदि किसी प्रकार की कोई तकनीकी समस्या आती है तो इसके निदान के लिए ईमेल webmaster@mpinfo.org पर या कार्यालय समय में दूरभाष नंबर 0755-4096219 पर सम्पर्क किया जा सकता है।



Bkk News


Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर


Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets - http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar



Comments