Featured Post

शासकीय धनवंतरी स्ना. आयुर्वेद महाविद्यालय के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा विक्रम विश्वविद्यालय परिसर में 7 एवं 8 दिसंबर को प्रकृति परीक्षण का आयोजन, अपना प्रकृति परीक्षण करवा कर प्राकृतिक जीवन पद्धति सम्बन्धित सुझाव एवं मार्गदर्शन प्राप्त करें।

उज्जैन : विज्ञान भारती मालवा प्रान्त इकाई द्वारा कोविड 19 के प्रकोप के दृष्टिगत आम नागरिको में आयुर्वेदिक सिद्धान्तों के द्वारा वात, पित्त, कफ सहित व्यक्तिगत प्रकृति परीक्षण किया जा रहा है। प्रकृति परीक्षण के अंतर्गत व्यक्ति को विशेषज्ञ आयुर्वेद चिकित्सकों द्वारा प्रश्न-उत्तर के माध्यम से उनकी वात, पित्त, कफ का आकलन करते हुए उनके स्वास्थ्य के लिये उचित भोजनचर्या एवं दिनचर्या के सम्बन्ध में सुझाव एवं मार्गदर्शन प्रदान किया जाता है।

विक्रम विश्वविद्यालय,उज्जैन के आईक्यूएसी निदेशक ने जानकारी देते हुए बताया कि, शासकीय धनवंतरी स्ना. आयुर्वेद महाविद्यालय के विशेषज्ञ चिकित्सकों द्वारा विक्रम विश्वविद्यालय परिसर में दिनांक 7 एवं 8 दिसंबर 2020 को प्रातः 11 बजे से 1:30 बजे तक प्रकृति परीक्षण का आयोजन किया जा रहा है। आपसे अनुरोध है कि अधिक से अधिक संख्या में अपना प्रकृति परीक्षण करवा कर प्राकृतिक जीवन पद्धति सम्बन्धित सुझाव एवं मार्गदर्शन प्राप्त करें।

विश्वविद्यालय में प्रकृति परीक्षण स्थान निम्नानुसार होगा :

01. माधव भवन (IQAC Hall) (समन्वयक श्री दिनेश तायड़े 9301177304)

02. सुमन मानविकी भवन (समन्वयक डॉ. संग्राम भूषण 8770796893)

03. फार्मेसी अध्ययनशाला (समन्वयक डॉ. अखिलेश तिवारी 9893995100)

04. वनस्पति अध्ययनशाला (समन्वयक डॉ. चित्रलेखा कड़ेल 9407131374, श्री शेखर दिसावल,9907414171)

05. गणित अध्ययनशाला (समन्वयक डॉ. संदीप तिवारी 9424958805)

दिनांक 7 एवं 8 दिसंबर 2020, समय प्रातः 11 बजे से 1:30 बजे तक




Comments