Featured Post

’’सतत अभ्यास एवं निरंतर प्रयास से ही लक्ष्य प्राप्त किया जा सकता है।’’


उज्जैन : अर्थशास्त्र अध्ययनशाला, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन में दिनांक 12 फरवरी 2021 को नवप्रवेशित विद्यार्थियों के लिए एक अभिप्रेरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं प्रसिद्ध प्रेरण विशेषज्ञ श्री राहुल राज पहाड़ी ने समस्त विद्यार्थियों को नियमित अध्ययन के साथ साथ केरियर संबंधित परिस्थितियों का प्रभावशाली तरीके से प्रस्तुतिकरण किया।

प्रेरण विशेषज्ञ श्री राहुल राज के अनुसार प्रत्येक विद्यार्थी को अपनी शिक्षा के साथ साथ केरियर के प्रति भी अत्यंत जागरूक होना चाहिए। बेहतर समय प्रबंधन के माध्यम से वांछित लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए निरंतर प्रयास एवं सतत अभ्यास करना होगा, तभी  विद्यार्थी भविष्य में सफलता प्राप्त कर सकता है।

विद्यार्थियों को अपना लक्ष्य समय पर ही स्पष्ट रूप से निर्धारित कर लेना चाहिए और एक साथ एक ही समय में एक से अधिक लक्ष्य निर्धारित करने से बचना चाहिए।  यदि विद्यार्थी एक समय में एक ही लक्ष्य निर्घारित करके पूर्ण क्षमता के साथ उस लक्ष्य को प्राप्त करने का प्रयास करता है, तो ऐसे विद्यार्थी को निश्चित समय पर सफलता भी निश्चित रूप से प्राप्त होती है।

प्रेरण कार्यक्रम के प्रारंभ में विषय प्रवर्तन एवं स्वागत भाषण विभागाध्यक्ष डॉ एस. के. मिश्रा के द्वारा प्रस्तुत किया गया, जिसके माध्यम से उन्होंने नवप्रवेशित विद्यार्थियों को प्रोत्साहित करते हुए बतलाया कि यदि विद्यार्थी अपनी समस्त उर्जा का उपयोग अपने स्पष्ट लक्ष्य के लिए करता है तो उसे हर परिस्थिति में सफलता अवश्य मिलती है। कार्यक्रम में विद्यार्थियों का उत्साहवर्द्धन तथा प्रोत्साहन अध्ययनशाला के ही प्राध्यापक डॉ संग्राम भूषण, डॉ दीपा द्विवेदी तथा जितेश पोरवाल ने किया। विद्यार्थियों ने भी प्रश्नोत्तर के जरिए भविष्य में अच्छा केरियर बनाने के बारे में मार्गदर्शन प्राप्त किया।

प्रेरण कार्यक्रम का संचालन डॉ धर्मेन्द्र सिंह ने किया तथा अंत में आभार अध्ययनशाला के विद्यार्थी श्री विनय कुमार के द्वारा व्यक्त किया गया।  इस अवसर पर उपस्थित विद्यार्थियों में से अधिकतर विद्यार्थियों ने  अपनी नियमित शिक्षा तथा अपने केरियर से संबंधित विभिन्न प्रकार के प्रश्न पूछे जिनका संतोषजनक उत्तर वक्ताओं द्वारा दिया गया।

Comments