Skip to main content

मातृभूमि को स्वर्ग से भी ज्यादा मूल्यवान मानने वाला देश है भारत - कुलपति प्रो.शर्मा

विक्रम विश्वविद्यालय में सोल्लास मना स्वाधीनता दिवस




उज्जैन । विक्रम विश्वविद्यालय में स्वाधीनता दिवस के अवसर पर आयोजित समारोह में कुलपति प्रो.बालकृष्ण शर्मा द्वारा ध्वजारोहण किया गया। उन्होंने अपने उद्बोधन में कहा कि प्राचीन विद्या भूमि उज्जैन की पावन धरा पर सभी को स्वतंत्रता दिवस की बधाई एवं अभिनंदन। हमारा देश सदियों से मातृभूमि को स्वर्ग से भी ज्यादा मूल्यवान मानने वाला देश है। हमें इस पावन पुण्यभूमि पर अभिमान होना चाहिए। आज का दिन इस देश के नए सपनों को साकार करने के लिए शहादत देने वाले अमर सेनानियों की याद दिलाता है। ज्ञात और अज्ञात अमर वीरों को मैं पूरे विश्वविद्यालय परिवार की ओर से हार्दिक श्रद्धा-सुमन अर्पित करता हूँ।




विक्रम विश्वविद्यालय प्रगति के नए सोपानों पर निरंतर गतिशील बना हुआ है। नैक द्वारा ‘‘ए’’ ग्रेड की उपलब्धि के बाद हम सम्पूर्ण विकास के साथ-साथ शैक्षिक गुणवत्ता-वृद्धि के लिए सभी दिशाओं में गतिशील बने हुए हैं। नैक द्वारा मूल्यांकन के लिए आगामी चरण की तैयारी प्रारम्भ हो गई है। विश्वविद्यालय में गोपनीय एवं परीक्षा भवन का निर्माण लगभग 5 करोड़ की लागत से कराया गया है। छात्रों के लिए 125 कक्ष युक्त नवीन छात्रावास भवन पूर्णता की ओर है। एस.ओ.ई.टी. के लिए पूर्व के भवन के पीछे पर्याप्त सुविधा सम्पन्न नवीन भवन का निर्माण करवाया जा रहा है। एंटी प्लैगेरिज्म सॉफ्टवेयर के माध्यम से शोध में गुणवत्ता वृद्धि के व्यापक प्रयास किये जा रहे हैं।



विश्वविद्यालय द्वारा अपने संसाधनों से बजट में वर्कशाप, सेमीनार के लिए विशेष प्रावधान किया गया। नये पाठ्यक्रमों के अन्तर्गत कम्प्यूटर विज्ञान संस्थान में दस व्यवसायोन्मुखी पाठ्यक्रम एवं समाजशास्त्र अध्ययनशाला में दो नवीन पाठ्यक्रम प्रारम्भ किये जा रहे हैं। अध्यापन से लेकर परीक्षा परिणामों तक यह विश्वविद्यालय पूरे प्रदेश में अग्रगण्य बना हुआ है। 



आज का दिन स्वाधीनता पर्व का उल्लास मनाने के साथ राष्ट्र और समाज के प्रति सम्पूर्ण निष्ठा और समर्पण का दिन है। हमारे अमर वीरों ने समाज के हर स्तर पर स्वराज्य को साकार करने का सपना देखा था। हम सबके लिये राष्ट्र सबसे पहले होना चाहिए। आज का यह पर्व इसी भाव को जगाता है। हमें विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश होने का गर्व है। इस स्वाधीनता दिवस की पुण्य बेला पर आइए हम भारत को उत्तरोत्तर उत्कर्ष पर ले जाने की शपथ लें। पूरी शक्ति के साथ देश, समाज और अपने विश्वविद्यालय को समर्थ करने में जुट जाएँ।



डॉ. शैलेन्द्रकुमार शर्मा, कुलानुशासक, विक्रम विश्वविद्यालय, उज्जैन ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रारंभ में कुलपति प्रो.बालकृष्ण शर्मा, पूर्व कुलपति प्रो. रामराजेश मिश्र, कुलसचिव डॉ. डी.के. बग्गा ने सम्राट विक्रमादित्य के मूर्तिशिल्प पर पुष्पांजलि एवं विक्रम तीर्थ सरोवर के जल से अभिषेक किया। विश्वविद्यालयीन महिला कर्मियों ने राष्ट्रगान एवं कुलगान की प्रस्तुति की। अतिथियों की अगवानी विद्यार्थी कल्याण संकायाध्यक्ष डॉ. आर.के. अहिरवार, कुलानुशासक डॉ.शैलेन्द्र कुमार शर्मा, रासेयो समन्वयक डॉ.प्रशांत पुराणिक, एन.सी.सी.अधिकारी डॉ. कानिया मेड़ा, रासेयो के कार्यक्रम अधिकारी डॉ.राज बोरिया आदि ने की। समारोह में विश्वविद्यालय के शिक्षक वृन्द, अधिकारीगण, कर्मचारीगण, एन.सी.सी. कैडेट उपस्थित थे।


कार्यक्रम का संचालन डा. रूबल वर्मा ने किया।



 


Comments

Popular posts from this blog

आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर द्वारा आयोजित बी. ए. एम. एस. प्रथम वर्ष एवं तृतीय वर्ष में छात्राओं ने बाजी मारी

आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय जबलपुर द्वारा आयोजित बी ए एम एस प्रथम वर्ष एवं तृतीय वर्ष में छात्राओं ने बाजी मारी शासकीय धन्वंतरी आयुर्वेद उज्जैन में महाविद्यालय बी ए एम एस प्रथम वर्ष नेहा गोयल प्रथम, प्रगति चौहान द्वितीय स्थान, दीपाली गुज़र तृतीय स्थान. इसी प्रकार बी ए एम एस तृतीय वर्ष गरिमा सिसोदिया प्रथम स्थान, द्वितीय स्थान पर आकांक्षा सूर्यवंशी एवं तृतीय स्थान पर स्नेहा अलवानी ने बाजी मारी. इस अवसर पर महाविद्यालय के समस्त अध्यापक एवं प्रधानाचार्य द्वारा छात्राओं को बधाई दी और महाविद्यालय में हर्ष व्याप्त है उक्त जानकारी महाविद्यालय के मीडिया प्रभारी डॉ प्रकाश जोशी, डा आशीष शर्मा छात्र कक्ष प्रभारी द्वारा दी गई. 

श्री खाटू श्याम जी के दर्शन 11 नवम्बर, 2020 से पुनः प्रारम्भ, दर्शन करने के लिए लेना होगी ऑनलाइन अनुमति

■ श्री खाटू श्याम जी के दर्शन 11 नवम्बर, 2020 से पुनः प्रारम्भ ■ दर्शन करने के लिए लेना होगी ऑनलाइन अनुमति श्री श्याम मन्दिर कमेटी (रजि.),  खाटू श्यामजी, जिला--सीकर (राजस्थान) 332602   फोन नम्बर : 01576-231182                    01576-231482 💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐💐 #जय_श्री_श्याम  #आम #सूचना   दर्शनार्थियों की भावना एवं कोविड-19 के संक्रमण के प्रसार को दृष्टिगत रखते हुए सर्वेश्वर श्याम प्रभु के दर्शन बुधवार दिनांक 11-11-2020 से पुनः खोले जा रहे है । कोविड 19 के संक्रमण के प्रसार को दृष्टिगत रखते हुए गृहमंत्रालय द्वारा निर्धारित गाइड लाइन के अधीन मंदिर के पट खोले जाएंगे । ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 11-11-2020 से चालू होंगी । दर्शनार्थी भीड़ एवं असुविधा से बचने के लिए   https://shrishyamdarshan.in/darshan-booking/ पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकते है ।  नियमानुसार सूचित हो और व्यवस्था बनाने में सहयोग करे। श्री खाटू श्याम जी के दर्शन करने के लिए, ऑनलाइन आवेदन करें.. 👇  https://shrishyamdarshan.in/darshan-booking/ 🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏🙏 साद

विक्रम विश्वविद्यालय द्वारा सितंबर में आयोजित परीक्षाओं के लिए उत्तर पुस्तिका संग्रहण केंद्रों की सूची जारी

उज्जैन। स्नातक एवं स्नातकोत्तर अंतिम वर्ष या अंतिम सेमेस्टर की ओपन बुक पद्धति से होने वाली परीक्षाओं की उत्तर पुस्तिकाओं के संग्रहण केंद्रों की सूची विक्रम विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर अपलोड कर दी गई है। संपूर्ण परिक्षेत्र के 7 जिलों में कुल 395 संग्रहण केंद्र बनाए गए हैं। कुलानुशासक, डॉ. शैलेंद्र कुमार शर्मा जी ने जानकारी देते हुए बताया कि, विद्यार्थीगण विश्वविद्यालय की वेबसाइट से संग्रहण केंद्रों की सूची देख सकते हैं। http://vikramuniv.ac.in/examination-notification/ सूची संलग्न दी जा रही है।