Featured Post

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने 15 लाख किसानों को ऑनलाइन दिये फसल बीमा के 2981.24 करोड़

 


भोपाल : शुक्रवार, मई 1, 2020, 19:45 IST


मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज प्रदेश के 15 लाख किसानों के बैंक खातों में फसल बीमा दावा राशि के 2,981.24 करोड़ रुपए मंत्रालय से ऑनलाइन ट्रांसफर किये। कोरोना संकट के इस दौर में किसानों के लिए यह अभी तक की सबसे बड़ी सहायता है। लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री नरोत्तम मिश्रा़, किसान कल्याण एवं कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल, जल-संसाधन मंत्री श्री तुलसी सिलावट, आदिम जाति कल्याण मंत्री सुश्री मीना सिंह अतिरिक्त मुख्य सचिव श्री के.के. सिंह प्रमुख सचिव कृषि श्री अजीत केसरी इस मौके पर उपस्थित थे।


सरकार ने जमा कराई 22 सौ करोड़ प्रीमियम की राशि


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किसानों से कहा कि खरीफ 2018 एवं रबी 2018-19 की फसल बीमा राशि का प्रीमियम किसानों ने तो जमा करवा दिया था, परंतु पूर्व सरकार ने राज्यांश जमा नहीं करवाया था, जिसके कारण किसानों को फसल बीमा के लाभ से वंचित होना पड़ा। श्री चौहान ने कहा कि हमारी सरकार ने आते ही सबसे पहले राज्य का हिस्सा 22 सौ करोड़ रुपए प्रीमियम जमा करवाया। इस कारण ही आज प्रदेश के  15 लाख किसानों को फसल बीमा की राशि प्राप्त हो रही हैI


किसानों को जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि हमने किसानों के हित के लिए जीरो प्रतिशत ब्याज पर फसल ऋण देना पुनः प्रारंभ कर दिया है। साथ ही, पुराने ऋण की अदायगी की तिथि 31 मई तक बढ़ा दी गई है। इसके लिए 38 करोड़ रूपये ब्याज की राशि सरकार ने जमा कर दी है।


दो हज़ार करोड़ उपार्जन राशि का भुगतान


मुख्यमंत्री ने कहा है कि प्रदेश में गेहूँ उपार्जन का कार्य तेज़ गति से जारी है। अभी तक प्रदेश में उपार्जन के लिये पंजीकृत 20 लाख किसानों में से 5 लाख 65 हज़ार किसानों ने अपना 28 लाख मीट्रिक टन गेहूँ समर्थन मूल्य पर बेचा है। कल एक ही दिन में सर्वाधिक 58 हज़ार किसानों ने 03 लाख 18 हजार मीट्रिक टन रिकॉर्ड गेहूँ प्रदेश के उपार्जन केन्द्रों पर बेचा है। किसानों को लगभग दो हजार करोड़ रूपये का भुगतान भी किया जा चुका है। प्रदेश में चना, मसूर एवं सरसों की खरीदी भी शुरू कर दी गई है।


खरीफ 2018 तथा रबी 2018-19 की राशि का भुगतान


मुख्यमंत्री ने बताया कि योजना के अंतर्गत 8 लाख 40 हज़ार किसानों को खरीफ 2018  की फसल बीमा दावा राशि 1921.24 करोड़ तथा 6 लाख 60 हज़ार किसानों को रबी 2018-19 की दावा राशि 1060 करोड रुपए का भुगतान किया गया है।


अच्छे टाइम पर मिला है पैसा


सीहोर जिले के किसान प्रभात सिंह ने मुख्यमंत्री से कहा कि कोरोना संकट के इस दौर में वे बहुत परेशान थे। बीमा का पैसा बहुत अच्छे टाइम पर मिला है। उसे और उसकी पत्नी दोनों को मिलाकर लगभग 2 लाख रूपये की फसल बीमा राशि प्राप्त हुई है। इसके लिए उन्होंने मुख्यमंत्री का हृदय से धन्यवाद ज्ञापित किया।


लाख गुना अच्छी है खरीदी व्यवस्था


विदिशा जिले के किसान श्री थान सिंह यादव ने मुख्यमंत्री को बताया कि उसे फसल बीमा की दावा राशि 50 हजार प्राप्त हो गई है। इसके अलावा उपार्जन का पैसा भी मिल गया है। इस बार की उपार्जन व्यवस्था पहले की उपार्जन व्यवस्था से लाख गुना अच्छी है। सभी किसान खुश हैं। भैया लाल दुबे ने बताया कि उन्हें फसल बीमा की 61 हजार रूपये की राशि प्राप्त हो गई है।


मुसीबत के समय बड़ी मदद


होशंगाबाद जिले के किसान श्री अशोक वर्मा ने कहा कि फसल बीमा का पैसा मुसीबत के समय बड़ी मदद है। उन्हें 97 हजार रुपए प्राप्त हुए हैं।


अभी तक सिर्फ पैसा कटने का मैसेज आता था


हरदा जिले के किसान रामशंकर ने मुख्यमंत्री से कहा कि वे फसल बीमा का पैसा मिलने पर अत्यंत खुश हैं। उन्होंने कहा 'मामा जी, आपने प्रदेश के किसानों को बहुत बड़ी सौगात दी है। अभी तक हमारे मोबाइल पर सिर्फ पैसा कटने का मैसेज आता था। अब पैसा मिलने का मैसेज आया है। बहुत खुशी हो रही है।'


फसल बीमा और उपार्जन दोनों के पैसे मिले


सागर जिले के किसान श्री राकेश कुमार दुबे ने मुख्यमंत्री को बताया कि उन्हें सोयाबीन की फसल बीमा की 2 लाख 88 हज़ार राशि मिल गई है। उनकी माताजी द्वारा समर्थन मूल्य पर बिक्री किये गये गेहूँ की राशि एक लाख 80 हजार भी उन्हें प्राप्त हो गई है। संकट की इस घड़ी में यह बहुत बड़ी सहायता है।


दिव्यांशु चतुर्वेदी को मिले ढाई लाख


रीवा जिले के श्री दिव्यांशु चतुर्वेदी ने बताया कि उन्हें फसल बीमा की 1,23,000 रूपये की राशि प्राप्त हुई है। इतनी ही राशि उनकी पत्नी के खाते में भी आई है। इस प्रकार, उन्हें कुल लगभग ढाई लाख रुपए प्राप्त हो गए हैं।  नरसिंहपुर के श्री धूल सिंह लोधी ने बताया कि उन्हें फसल बीमा की 67,900 की राशि प्राप्त हुई है। इसी प्रकार, गोमती बाई लोधी के खाते में फसल बीमा की 61,290 की राशि पहुँच गई है।


आगर जिले को कई सौगातें


आगर-मालवा जिले के किसान श्री प्रहलाद ने मुख्यमंत्री को बताया कि उनको सोयाबीन की फसल बीमा की राशि 85 हजार रूपये प्राप्त हो गई है। उन्होंने कहा कि आपने आगर जिले को कई सौगातें दी हैं, जिससे हम सभी जिलेवासी आपका आभार व्यक्त करते हैं। गुना जिले के सुंदर लाल ने बताया कि उन्हें फसल बीमा की 84 हजार रूपये की राशि भी मिल गई है।


यह है फसल बीमा योजना


मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना खरीफ 2016 से लागू है। योजना का मुख्य उद्देश्य प्राकृतिक आपदा आदि अनपेक्षित घटनाक्रम के कारण फसल हानि, क्षति से पीड़ित किसानों को वित्तीय सहायता उपलब्ध कराना एवं किसानों की आय को सुनिश्चित करना है, जिससे वे अपने कृषि कार्य को जारी रख सकें। योजना के अंतर्गत शामिल जोखिम में बाधित बुवाई-रोपण-अंकुरण, खड़ी फसल का बुवाई से लेकर कटाई तक नुकसान, फसल कटाई के बाद होने वाले नुकसान तथा स्थानीय आपदाएँ शामिल हैं।


 


Bkk News


Bekhabaron Ki Khabar - बेख़बरों की खबर


Bekhabaron Ki Khabar, magazine in Hindi by Radheshyam Chourasiya / Bekhabaron Ki Khabar: Read on mobile & tablets - http://www.readwhere.com/publication/6480/Bekhabaron-ki-khabar


Comments